मनोरंजन

b’day spl: राजेश खन्ना ने महज दो सालों में दी थी 15 सुपरहिट फिल्में

राजेश खन्ना के बारे में मशहूर था कि वो अहंकारी थे और सेट पर हमेशा लेट आते थे

मुंबई:बॉलीवुड के सुपरस्टार राजेश खन्ना का आज जन्मदिन है. राजेश खन्ना का जन्म 29 दिसंबर 1942 को हुआ था. बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता राजेश खन्ना आज किसी पहचान के मोहताज नहीं है. भले ही वो आज हमारे साथ न हो लेकिन उनकी फिल्में उनकी दमदार अदाकारी को वो हमारे साथ हमेशा के लिए छोड़ गए हैं.

उनके जैसा स्टारडम अब तक बॉलीवुड में किसी स्टार ने नहीं देखा है. जो अपने आप में एक अलग मुकाम है. राजेश खन्ना का अपना अंदाज उन्हें सबसे अलग बनाता है. जो वाकई बहुत ही कमाल का रहा है.

राजेश खन्ना पर यासिर उस्मान ने बहुचर्चित किताब ‘द अनटोल्ड स्टोरी ऑफ इंडियाज फर्स्ट सुपरस्टार’ लिखी है जिसमें उन्होंने राजेश खन्ना के जीवन के तमाम पहलुओं को उजागर किया था. राजेश खन्ना उन सितारों में से एक रहे, जिन्होंने महज दो सालों में 15 सुपरहिट फिल्में दी थीं.

राजेश खन्ना की जिंदगी से जुड़ी ये किताब हमें बताती है कि वो अपने आप में एक अलग शख्स थे. जिनकी ठसक और उनके स्टारडम का दौर ही अलग था. जीपी सिप्पी साहब ने सबसे पहले उन्हें एक फिल्म ‘राज’ दी, जिसमें उनका डबल रोल था. इसके बाद उन्होंने चेतन आनंद की ‘आखिरी खत’ साइन की. लेकिन ‘आखिरी खत’ पहले रिलीज हुई और बुरी तरह से फ्लॉप हो गई.

राजेश खन्ना के बारे में मशहूर था कि वो अहंकारी थे और सेट पर हमेशा लेट आते थे.” जिस दिन फिल्म की शूटिंग थी, उस दिन राजेश खन्ना को सेट पर आठ बजे बुलाया गया था. राजेश खन्ना अपने अंदाज के अलग आदमी थे वो अपने टाइम 11 बजे ही आए. सब लोग देख रहे थे कि ये तो नया लड़का है. उनका ये पहला शूट है तो ये ऐसा कैसे कर सकता है. कुछ लोगों ने उन्हें घूरकर भी देखा. एक्टर को इससे कोई फर्क नहीं पड़ा.

फिल्म से जुड़े सभी लोग सेट पर उनके बरताव के बारे में बाते करने लगे. उसी दौरान सीनियर टेक्नीशियंस ने गुस्से में उन्हें कुछ कह भी दिया और बताया कि समय पर आना सीखो पहले..जिसके जवाब में राजेश खन्ना ने कहा “देखिए एक्टिंग और करियर की ऐसी की तैसी. मैं किसी भी चीज के लिए अपना लाइफस्टाइल नहीं बदलूंगा.”

राजेश खन्ना की ये बात और उनकी ये सोच देखकर सभी हैरान रह गए. सेट पर खामोशी सी छा गई सभी ने ये बात सुनकर एक ही बात कही इस सोच के साथ आदमी या तो बहुत ऊपर जाता है या बहुत नीचे जाता है.

स्टारडम का दौर राजेश खन्ना का दौर बहुत अलग सा ही था जिसमें लड़कियां मेकअप करके फिल्म देखने जाना पसंद करती थी. कुछ तो फिल्मों को देखने से पहले ब्यूटी पार्लर जाकर, अच्छे कपडे पहनकर जाया करती थीं.

जब फिल्म के दौरान राजेश कभी पर्दे की तरफ से पलकें झपका रहे हैं या सिर झटक रहे हैं या मुस्करा रहे हैं होते तो लड़कियां सोचती थी के ये सब वो उनके लिए कर रहे हैं. वाकई ऐसा स्टारडम किसी ने अब तक नहीं देखा है.

राजेश खन्ना को खून से खत लिखती थीं लडकियां, काका के नाम से थे मशहूर बॉलीवुड में अपनी बेहतरीन एक्टिंग से सभी के दिलों में बसने वाले राजेश खन्ना का आज जन्मदिन है। आज राजेश खन्ना इस दुनिया में नहीं है लेकिन आज भी वह लोगों के दिलों में जिन्दा है।

राजेश खन्ना का असल नाम जतिन खन्ना है और उन्होंने अपने अंकल के कहने पर अपना नाम बदल दिया था। साल 1969 से 1975 के बीच राजेश ने कई सुपरहिट फिल्में दीं और उस दौर में पैदा हुए ज्यादातर लड़कों के नाम राजेश रखे गए।

कहा जाता है उनके लिए लडकियां बहुत दीवानी थीं। वैसे उस दौर में फिल्म इंडस्ट्री में राजेश को प्यार से काका भी कहा जाता था। जब वह सुपरस्टार थे तब एक कहावत बड़ी मशहूर हुआ करती थी जो यह थी- ‘ऊपर आका और नीचे काका।’

राजेश ने फिल्म में काम पाने के लिए कई निर्माताओं के दफ्तर के चक्कर लगाए और अंत में उनकी किस्मत चमक गई। उनकी पहली फिल्म का नाम था ‘आखिरी खत’, जो 1966 में रिलीज हुई थी। वैसे जब उनकी फ़िल्में आराधना और दो रास्ते रिलीज हुई तो इसकी सफलता के बाद राजेश खन्ना मशहूर हो गए और उन्हें लोगों ने बहुत प्यार दिया। अपने दौर में राजेश लड़कियों के बीच ख़ासा लोकप्रिय हुए। वैसे उस दौरान लड़कियों ने उन्हें खून से खत तक लिख डाले और उनकी फोटो से शादी तक कर ली।

आराधना, सच्चा झूठा, कटी पतंग, हाथी मेरे साथी, मेहबूब की मेहंदी, आनंद, आन मिलो सजना, आपकी कसम जैसी फिल्मों को कर राजेश ने कई रिकॉर्ड्स बनाए। उन्होंने डिम्पल कपाड़िया से शादी की और करोड़ों लड़कियों के दिल तोड़ दिए।

जी दरअसल डिम्पल ने फिल्म बॉबी में काम कर खूब सुर्खियां पाई और इसी के बाद उन्होंने राजेश खन्ना से शादी कर ली। आपको पता हो दोनों की दो बेटी हैं ट्विंकल और रिंकी। वैसे डिम्पल और ‍राजेश थोड़े ही समय बाद अलग हो गए और उसके बाद 18 जुलाई 2012 को राजेश खन्ना ने दुनिया को अलविदा कह दिया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button