छत्तीसगढ़

कोरोना संक्रमित मरीजों को अस्पताल में शिफ्ट करते समय तत्परता बरतें : कलेक्टर भीम सिंह

होम आईसोलेशन वाले मरीज के घरवाले मरीज के लक्षण और इलाज की डायरी अस्पताल को उपलब्ध करावे

हिमालय मुखर्जी ब्यूरो चीफ रायगढ़

रायगढ़, 23 अक्टूबर 2020: कलेक्टर भीम सिंह ने आज कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों के पिछले एक सप्ताह में मृत्यु प्रकरणों की समीक्षा की। उन्होंने जिले में संचालित कोविड अस्पतालों के वरिष्ठ चिकित्सकों से कोरोना संक्रमित मरीजों की गंभीर स्थिति को देखकर एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल में शिफ्ट करते समय दोनों अस्पतालों में समन्वय और शिफ्टिंग में लगने वाले समय में तत्परता बरतने के निर्देश दिये। उन्होंने मरीज की शिफ्टिंग के साथ उसके इलाज की केश डायरी भी अनिवार्य रूप से भेजने को कहा।

कलेक्टर सिंह ने होम आईसोलेशन में रहने वाले मरीजों का दिन में 4-5 बार ऑक्सीजन लेवल जांच करने और मरीज की स्थिति पर निगाह रखने को कहा और ऑक्सीजन लेवल कम होने पर उसके लक्षण तथा इलाज की केश डायरी परविार के सदस्यों से प्राप्त कर मरीज के साथ अस्पताल पहुंचाने के निर्देश दिये जिससे पहले से जारी इलाज की स्टडी कर आगे का इलाज करने में डॉक्टरों को सुविधा होगी, उन्होंने कोविड अस्पताल के डॉक्टरों को निर्देशित किया कि कोरोना संक्रमित मरीजों को कौन से अस्पताल में भर्ती करना है या रेफर करना हैं यह डॉक्टर्स तय करेंगे न कि मरीज या उसके घरवाले।

रायगढ़ जिले में प्रत्येक कोरोना संक्रमित मरीज के इलाज के लिये सभी सुविधायें उपलब्ध है और यहां के डॉक्टर्स बहुत मेहनत से अपनी सेवायें दे रहे है। अत: किसी व्यक्ति को घबराने की आवश्यकता नहीं है।

कलेक्टर सिंह ने मेडिकल कालेज रायगढ़ में

कलेक्टर सिंह ने मेडिकल कालेज रायगढ़ में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिये ऑक्सीजन पाईप लाइन का कार्य हर हालत में 31 अक्टूबर तक पूरा करने के निर्देश दिये। उन्होंने कोरोना संक्रमित मरीजों की मृत्यु पर चिंता व्यक्त करते हुये कहा कि कई प्रकरणों में मरीज तथा उसके परिवार के सदस्यों की लापरवाही तथा झोलाछाप डॉक्टरों से इलाज के कारण सामने आये है उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को जिले के सभी क्षेत्रों में आम नागरिकों के बीच कोरोना लक्षण पर तत्काल जांच कराने की समझाइश और झोला छाप डॉक्टरों के विरूद्ध एफआईआर की कार्यवाही जारी रखने के निर्देश दिये।

समीक्षा बैठक के दौरान सीईओ जिला पंचायत ऋचा प्रकाश चौधरी, सहायक कलेक्टर चंद्रकांत वर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.एस.एन.केशरी, मेडिकल कालेज के आईसीयू प्रभारी डॉ. लकड़ा सहित कोविड अस्पतालों के डॉक्टर्स उपस्थित थे। मेडिकल कालेज के डीन डॉ. लूका वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े रहे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button