अधिकारी-कर्मचारी आदर्श आचरण संहिता का पालन सुनिश्चित करें बगैर अनुमति के अवकाश पर नहीं जायेंगे

मुंगेली: भारत निर्वाचन आयोग नई दिल्ली द्वारा लोकसभा आम निर्वाचन 2019 की अधिसूचना जारी की गई है। जिसके फलस्वरूप मुंगेली जिले के अंतर्गत आदर्श आचार संहिता प्रभावशील हो गई है तथा निर्वाचन की प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने समस्त अधिकारी-कर्मचारियों को निर्देशित किया है कि आदर्श आचार संहिता का पालन कड़ाई से सुनिश्चित करें तथा कोई भी शासकीय अधिकारी-कर्मचारी अनुमति के बिना अवकाश पर प्रस्थान नहीं करेंगे तथा निर्धारित मुख्यालय पर उपस्थित रहेंगे।

पीठासीन एवं मतदान अधिकारी क्रमांक 1 का प्रशिक्षण 14 मार्च से

लोकसभा निर्वाचन 2019 के सुव्यवस्थित एवं सुचारू रूप से निर्वाचन संपन्न कराने के लिए पीठासीन अधिकारियों एवं मतदान अधिकारी क्रमांक 1 का प्रथम चरण का प्रशिक्षण 14 मार्च से 16 मार्च 2019 तक दोपहर 1.30 बजे से शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला करही एवं शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला दाऊपारा (मिशन) मुंगेली में आयोजित किया गया है। जिसमें विकासखण्ड मुंगेली, लोरमी एवं पथरिया के प्रशिक्षणार्थी उपस्थित रहेंगे। पीठासीन अधिकारियों के मोबाईल में सी-टॉप्स एप डाउनलोड कर प्रशिक्षण कक्ष में इनकी उपस्थिति क्यूआर कोड के माध्यम से ऑनलाईन किया जाएगा। प्रशिक्षण में निर्वाचन प्रक्रिया एवं ईव्हीएम मशीन संबंधी जानकारियां विस्तारपूर्वक प्रदान की जायेगी।

आचार संहिता लागू होने से तीरथ यात्रा स्थगित

छत्तीसगढ़ शासन समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित तीरथ बरत योजना के अंतर्गत मुंगेली जिले से बाबा बैजनाथ धाम, बजरंगबली मंदिर, अनुकुल ठाकुर का सत्संग मंदिर तीर्थ यात्रा प्रस्तावित था। लोकसभा निर्वाचन हेतु आचार संहिता लागू होने के फलस्वरूप उक्त यात्रा आगामी आदेश तक के लिए शासन द्वारा स्थगित कर दिया गया है।

टीकाकरण व संस्थागत प्रसव को बढ़ाने कलेक्टर ने दिये समस्त बीएमओ को निर्देश
कलेक्टर ने ली चिकित्सा अधिकारियों एवं महिला बाल विकास अधिकारियों की बैठक

कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने आज कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में खण्ड चिकित्सा अधिकारियों, टीकाकरण अधिकारी एवं महिला बाल विकास विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय कामकाज की समीक्षा की। उन्होने टीकाकरण अधिकारी और खण्ड चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित किया कि टीकाकरण एवं संस्थागत प्रसव को बढ़ाने काम करना होगा। संस्थागत प्रसव और टीकाकरण में शत प्रतिशत उपलब्धि सुनिश्चित करें तथा होम डिलिवरी को नियंत्रित करें। उन्होने जिला क्षय रोग अधिकारी से कहा कि क्षय रोगियों की बलगम खंखार) की जांच कर पीड़ित रोगियों को शत प्रतिशत लाभान्वित करें। इसके लिए स्वास्थ्य कार्यकर्ता का सहयोग लिया जा सकता है।

कलेक्टर डॉ. भुरे ने महिला बाल विकास के परियोजना अधिकारियों से कहा कि प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना में प्रगति लायें तथा क्षेत्र भ्रमण कर रेडी टू ईट की गुणवत्ता सुनिश्चित करें। उन्होने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी और महिला बाल विकास के जिला कार्यक्रम अधिकारी से कहा कि पोषण पुनर्वास केंद्र में कुपोषित बच्चों को भर्ती कराकर लाभान्वित करें। उन्होने लोरमी के खण्ड चिकित्सा अधिकारी से कहा कि ग्राम बटहा में आयुष्मान भारत के तहत स्मार्ट कार्ड बनाने के नाम पर अवैध वसूली करने वालों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करायें।

बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सी.पी. आगरे, जिला कार्यक्रम प्रबंधक उत्कर्ष तिवारी, टीकाकरण अधिकारी डॉ. कमलेश खैरवार, जिला क्षय नियंत्रण अधिकारी डॉ. सुदेश रात्रे, जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी राजेंद्र कश्यप, मुंगेली बीएमओ डॉ. एमके राय, पथरिया बीएमओ डॉ. एके बंजारे, लोरमी बीएमओ डॉ. दाऊ, बीपीएम सहित अन्य चिकित्सक एवं परियोजना अधिकारी उपस्थित थे।

मिश्रा द्वारा प्रभारी खाद्य अधिकारी का कार्यभार छत्तीसगढ़ शासन खाद्य विभाग रायपुर के आदेशानुसार एसके मिश्रा द्वारा मुंगेली जिला के प्रभारी खाद्य अधिकारी के रूप में कार्यभार ग्रहण कर लिया गया है।

1
Back to top button