भालू के हमले से कुत्ते ने ऐसे बचाई मालिक की जान, पढ़ें खबर

कोरिया

गोदरीपारा वार्ड 31 पुराना माइंस क्वार्टर निवासी शंकर उर्फ शंखलाल पर रविवार की रात अचानक भालू ने हमला कर दिया। जिस समय भालू हमला किया मालिक के साथ उसका पालतू कुत्ता भी था। मालिक पर हमला करता देख कुत्ता भालू से भिड़ गया और तब तक संघर्ष

करता रहा, जब तक भालू वहां से भाग न गया।
पालतू कुत्ता ने अपने मालिक को बचाने के लिए पूरी जान झोक दी। भालू शंकर को छोड़कर जंगल की तरफ भाग खड़ा हुआ। भालू के हमले से शंकर के जांघ में केवल दो ही दांत गड़ा पाया, जिसका इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बड़ा बाजार चिरमिरी में किया जा रहा है।

गौरतलब है कि भालू चिरमिरी क्षेत्रांतर्गत जंगल से पक्के हुए कटहल की महक को सूंघकर लगभग दो से तीन किलोमीटर दूर से भी उस स्थान पर पहुंचा था, जिस समय भालू वहां पहुंचा, शंकर लघु शंका के लिए बाड़ी में पहुंचा था और साथ में उसका पालतू कुत्ता भी था।

इसी दौरान भालू ने कटहल खाने के लिए शंकर के ऊपर हमला कर दिया है। बताया जाता है भालू इससे पहले गोदरीपारा के तीन घरों पर भालू हमला कर चुका है। इसी प्रकार चित्ताझोर पोड़ी में भी एक मकान मालिक पर हमला कर कटहल खाने की कोशिश की।

वन विभाग की चेतावनी के बावजूद भी कटहल मालिक वर्तमान समय में भी अपने पेड़ों पर पका हुआ कटहल रखे हुए है, जो कि भालू के हमले को आमंत्रण दे रहें है। इसी प्रकार हाथियों के बचाव के लिए भी वन विभाग द्वारा महुआ को घर में न रखने की हिदायत दी जाती है, फिर भी महुआ प्रेमी आज भी काफी मात्रा में महुआ एकत्र करके रखते है।

Back to top button