इस वजह से मां ने ले ली सात के बेटे की मासूम की जान

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के साउथ 24 परगना के जयनगर में एक मां ने गुरुवार को अपने सात साल के बेटे की जान ले ली। सात वर्षीय बेटे ने अपनी मां को एक चौदह वर्षीय लड़के के साथ ‘आपत्तिजनक अवस्था’ में देख लिया था, जिसके बाद महिला ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने आरोपी मां सागरी और उसके प्रेमी ऋषि को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक, सोमवार को साधन मंडल (7) को राजापुर गांव में मृत अवस्था में पाया गया। साधन के पिता गोस्थो मंडल अपने बेटे और पत्नी के साथ मंडल पारा में रहते हैं। उनके पड़ोसी सचिंद्रनाथ सरदार कोलकाता में रहते हैं लेकिन उनकी पत्नी अपने दो बेटों ऋषि और आनंद के साथ उसी गांव में रहती हैं।

14 साल के लड़के से था अफेयर : रिपोर्ट्स के मुताबिक, पिछले गुरुवार से साधन गायब था। गोस्थो मंडल की शिकायत के बाद पुलिस ने जांच शुरू की और सोमवार को साधन का शव बरामद किया। खबर फैलने के बाद गांववालों ने सरदार के घर पर हमला कर दिया। पुलिस को पता चला कि सागरी का अफेयर 14 वर्षीय ऋषि से चल रहा था। जब पुलिस ने सागरी से पूछताछ की तो उसने भी इस बात के साथ-साथ अपने बेटे को मार डालने की बात भी स्वीकार कर ली।

मारकर खेत में छिपा दी थी लाश : गुरुवार को गोस्थो खेत पर गए हुए थे और साधन बाहर खेल रहा था। मौका देखकर ऋषि सागरी के कमरे में गया। इतने में साधन वापस आ गया और उसने मां और ऋषि को आपत्तिजनक अवस्था में देख लिया।

गुस्से में लाल साधन ने यह बात अपने पिता से बताने को कहा। यह सुनकर ऋषि ने लपककर उसे पकड़ लिया, इसके बाद सागरी ने अपने ही बेटे का गला दबा दिया। पुलिस के मुताबिक, मृतक के सिर पर किसी भारी चीज से वार किया गया था। दोनों ने लाश को ले जाकर एक खेत में छिपा दिया। जब शाम को गोस्थो खेत से लौटे तो सागरी रोने लगी कि साधन गायब है। पुलिस इस बात को लेकर आश्चर्यचकित है कि बेटे की मौत के चार दिन बाद भी महिला एकदम सामान्य रहीं।

new jindal advt tree advt
Back to top button