राज्य

चुनाव से पहले PM मोदी ने बिहार को दी एक और सौगात, 543.28 करोड़ की योजनाओं का किया उद्घाटन

प्रधानमंत्री ने कहा कि शहरीकरण आज के दौर की सच्चई है।

पटनाः विधानसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार को आज एक और सौगात दी है। उन्होंने बिहार में 543.28 करोड़ रुपए की सात परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया है। इस मौके पर उन्होंने कहा कि ‘आत्मनिर्भर भारत’ मिशन को गति देने के लिए ‘आत्मनिर्भर बिहार’ विशेषकर देश के छोटे शहरों को भविष्य की जरूरतों के मुताबिक तैयार करना बहुत जरूरी है।

सुशील मोदी ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से केंद्र की नमामि गंगे और अमरुत योजना से संबंधित बिहार में 543.28 करोड़ रुपए की सात परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इसके बाद उन्होंने कहा कि शहरी गरीबों और शहर में रहने वाले मध्यम वर्ग के लोगों का जीवन आसान बनाने वाली इन नई सुविधाओं के लिए वह सभी को बधाई देते हैं।

उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत मिशन को गति देने के लिए आत्मनिर्भर बिहार विशेषकर देश के छोटे शहरों को वर्तमान ही नहीं भविष्य की जरूरतों के मुताबिक तैयार करना बहुत जरूरी है। इसी सोच के साथ अमरुत मिशन के तहत बिहार के अनेक शहरों में जरूरी सुविधाओं के विकास के साथ-साथ ‘ईज ऑफ लिविंग और ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ के लिए बेहतर माहौल तैयार करने पर बल दिया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि शहरीकरण आज के दौर की सच्चई है। आज पूरे विश्व में शहरी क्षेत्रों की संख्या बढ़ रही है। भारत भी इस वैश्विक बदलाव का अपवाद नहीं है, लेकिन कई दशकों से हमारी मानसिकता बन गई और हमने मान लिया था कि शहरीकरण खुद में एक बड़ी समस्या और बड़ी बाधा है लेकिन उनका सोचना कुछ अलग है। यदि शहरीकरण समस्या लगती है तो उसमें अवसर भी उपलब्ध हैं।

उन्होंने कहा कि बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर ने तो उस दौर में ही इस सच्चाई को समझ लिया था और वह शहरीकरण के बड़े समर्थक थे। उन्होंने शहरीकरण को समस्या नहीं माना। उन्होंने तो ऐसे शहरों की कल्पना की थी, जहां गरीब से गरीब व्यक्ति को भी अवसर मिले और जीवन को बेहतर करने के रास्ते खुले।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button