राज्य

कमल हासन और रजनीकांत की मुलाकात से शुरू हुआ कयासों का दौर

दक्षिण भारत की राजनीति में एकबार फिर से हलचल मचने लगी है. इसकी वजह है कि अभिनेता से नेता बने दो सुपरस्टारों कमल हासन और रजनीकांत की मुलाकात.

दक्षिण भारत की राजनीति में एकबार फिर से हलचल मचने लगी है. इसकी वजह है कि अभिनेता से नेता बने दो सुपरस्टारों की मुलाकात. रविवार को चेन्नई में कमल हासन और रजनीकांत के बीच मुलाकात हुई. चर्चा है कि दोनों अभिनेता-नेता एक होकर तमिलनाडू की राजनीति में कोई नया भूचाल लाने वाले हैं, हालांकि दोनों ही नेताओं से जब इस बारे में बात की गई तो उन्होंने इसे समय पर छोड़ दिया.

राजनीतिक टूर पर निकले कमल
अपने राजनीतिक टूर पर निकले कमल हासन दक्षिण के सुपर स्टार से मिलने के लिए उनके घर गए. मुलाकात के बाद उन्होंने बताया कि उनकी यह मुलाकात महज औपचारिक थी. राजनीति का इससे कोई लेना-देना नहीं था. हासन ने बताया कि उन्होंने अपने राजनीतिक टूर के बारे में उन्हें जानकारी दी. उधर, तमिल सिनेमा के दो दिग्गजों की मुलाकात को दक्षिण मामलों के जानकार राजनीति की एक नई सुगबुगाहट के तौर पर देख रहे हैं.

जब पत्रकारों ने रजनीकांत से इस मुलाकात के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा, ‘कमल हासन तमिलनाडू की जनता की सेवा करना चाहते हैं, मैं उनके बारे में प्रर्थना करता हूं कि वे अपने मकसद में कामयाब रहें.’ उन्होंने कहा कि कमल राजनीति में नाम या पैसे के लिए नहीं आ रहे हैं, वह तो केवल जनता की सेवा करना चाहते हैं. जब पूछा गया कि क्या दोनों महान अभिनेता इस शुभ काम के लिए एक हो सकते हैं, कमल हासन ने कहा, ‘यह तो केवल समय ही बताएगा. और भविष्य में इसकी संभावनाएं हो सकती हैं.’

बता दें कि रजनीकांत और कमल हासन के संबंध दशकों पुराने हैं. दोनों ने 70 के दशक में कई फिल्मों में एकसाथ काम किया था. तमिल सिनेमा के इन दोनों महान अभिनेताओं के संबंध भी हमेशा अच्छे रहे हैं.

कमल हासन ने पिछले सप्ताह कहा था कि अब के फिल्मों में काम नहीं करेंगे, क्योंकि तमिलनाडु के लोगों के लिए राजनीति में उतरना अंतिम और अपरिवर्तनीय निर्णय है. उन्होंने कहा कि उनकी दो फिल्मों का काम चल रहा है. इन्हें पूरी करने के बाद वे और फिल्म नहीं करेंगे.

अगर चुनाव हार गए तो?
अगर वे चुनाव हार जाते हैं तो फिर भी राजनीति करते रहेंगे, के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘मुझे ईमानदारी से जीवन जीने के लिए कुछ करना होगा, लेकिन मैं नहीं समझता कि मैं हारने जा रहा हूं.’ इस विश्वास की वजह बताते हुए सुपरस्टार ने कहा, ‘मैं पिछले 37 सालों से समाजिक कार्यों से जुड़ा हूं और इन 37 सालों में उन्होंने करीब 10 लाख ईमानदार लोगों को अपने साथ जोड़ा है. वे मेरे साथ पिछले 37 सालों से हैं. मेरे निर्देश पर ये 10 ईमानदार लोग ज्यादा से ज्यादा युवाओं को अपने कल्याणकारी कामों से जोड़ रहे हैं.’

21 फरवरी को होगा पार्टी का ऐलान
इससे पहले उन्होंने कहा था कि रजनीकांत के साथ राजनीतिक गठजोड़ संभव नहीं है. कमल हासन 21 फरवरी, बुधवार को मुदरई में राजनीतिक पार्टी का ऐलान कर सकते हैं. इस दिन पार्टी के निशान और झंडे की भी घोषणा की जाएगी. इसके बाद वे लगातार जनसभाओं को संबोधित करने के लिए एक यात्रा शुरू करेंगे.

रजनीकांत सभी सीटों पर लड़ेंगे चुनाव
बात दें कि पिछले साल 2017 के अंत में तमिलनाडु के सुपरस्टार रजनीकांत ने राजनीतिक पार्टी का गठन करने का ऐलान किया था. उन्होंने 2021 में होने वाले तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में सभी 234 सीटों पर चुनाव लड़ने का बात कही थी. सुपरस्टार ने भी कहा था कि सत्ता में आने के तीन सालों के अंदर यदि उनकी पार्टी अपने चुनावी वादों को पूरा नहीं कर पाती है तो वह पद से इस्तीफा दे देंगे

Summary
Review Date
Reviewed Item
कमल हासन और रजनीकांत की मुलाकात से शुरू हुआ कयासों का दौर
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *