राष्ट्रीय

कश्मीर पंडितों का मानना- राहुल कौल ब्राह्मण के है और उनका गोत्र दत्तात्रेय

इसलिए राहुल गांधी का दावा सही है कि वे कौल ब्राह्मण हैं और उनका गोत्र दत्तात्रेय है. ओमकार नाथ शास्त्री ने कहा कि शास्त्रों का अध्ययन ठीक से किया जाए तो ऐसे नियम हैं जिसमें मां का गोत्र बच्चों को मिलता है

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के गोत्र को लेकर छिड़े सियासी घमासान के बीच कश्मीर पंडितों के धर्मगुरु और वैदिक शास्त्र के जानकार पंडित ओमकार नाथ शास्त्री का कहना है कि राहुल ने अपने गोत्र को लेकर जो दावा किया था वो सही है.

इसलिए राहुल गांधी का दावा सही है कि वे कौल ब्राह्मण हैं और उनका गोत्र दत्तात्रेय है. ओमकार नाथ शास्त्री ने कहा कि शास्त्रों का अध्ययन ठीक से किया जाए तो ऐसे नियम हैं जिसमें मां का गोत्र बच्चों को मिलता है.

पंडित ओमकार नाथ शास्त्री ने कहा कि आमतौर पर विवाह के बाद लड़की का गोत्र बदल जाता है. चूंकि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने फिरोज गांधी से शादी के बाद धर्म परिवर्तन नहीं किया इसलिए वे कश्मीरी ब्राह्मण ही रहीं.

उनका दाह संस्कार भी वैदिक रीति रिवाज से हुआ. इसलिए इंदिरा के बेटे राजीव गांधी और संजय गांधी दोनों का गोत्र वही रहेगा जो मां का था. पंडित ओमकार नाथ शास्त्री ने कहा कि चूंकि फिरोज गांधी पारसी थे इसलिए उनका कोई अपना गोत्र नहीं था, यदि इंदिरा अपना धर्म परिवर्तन कर लेतीं तो उनका गोत्र भी समाप्त हो जाता, जैसा नहीं हुआ.

उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने भी इटली की सोनिया गांधी से विवाह किया. लेकिन राजीव ने भी अपना धर्म परिवर्तन नहीं किया. इसलिए राजीव को उनकी मां का गोत्र मिला, इसी तरह राजीव का गोत्र उनके पुत्र राहुल गांधी को मिला.

इसलिए राहुल गांधी का दावा सही है कि वे कौल ब्राह्मण हैं और उनका गोत्र दत्तात्रेय है. ओमकार नाथ शास्त्री ने कहा कि शास्त्रों का अध्ययन ठीक से किया जाए तो ऐसे नियम हैं जिसमें मां का गोत्र बच्चों को मिलता है.

Back to top button