बेमेतरा : रोका छेका अभियान में प्रतिदिन लगाया जा रहा है पशु चिकित्सा शिविर

बेमेतरा में संचालित 178 गौठानों में प्रतिदिन 08 से 09 पशु चिकित्सा शिविरों का आयोजन किया जा रहा है

बेमेतरा 15 जुलाई 2021 : छ.ग. शासन के महत्वाकांक्षी योजना नरवा, घुरवा व बाड़ी विकास अंतर्गत रोका-छेका अभियान में शासन के निर्देशानुसार एवं जिला प्रशासन के मार्गदर्शन पर रोका-छेका कार्यक्रम में जिला बेमेतरा में संचालित 178 गौठानों में प्रतिदिन 08 से 09 पशु चिकित्सा शिविरों का आयोजन किया जा रहा है जिसमें वर्षा ऋतु में होने वाले बिमारियों के बचाव हेतु टीकाकरण एवं अन्य विभागीय कार्यो का सम्पादन किया जा रहा है, तथा साथ ही ग्रामिणों को रोका-छेका से होने वाले फायदे जैसे फसल चराई से होने वाले आर्थिक नुकसान से बचाव के बारे में समझाईश भी दी जा रही है।

रोका-छेका शिविर का आयोजन

01 जुलाई से रोका-छेका शिविर का आयोजन डाॅ. राजेन्द्र भगत उप संचालक पशु चिकित्सा सेवायें जिला बेमेतरा एवं डाॅ. साधना कुर्रे जिला नोडल अधिकारी के मार्गदर्शन पर किया जा रहा है जिसमें अब तक कुल 131 गौठानों में शिविर का आयोजन किया जा चूका है जिसके अंतर्गत गलघोटू एवं एकटंगिया बिमारी के बचाव हेतु 213403 पशुओं में टीकाकरण एवं साथ ही उनका पंजीयन व टैगिंग का कार्य किया गया।

इसके साथ ही 2975 पशुओं का उपचार, 6487 पशुओं को कृमीनाशक दवा पान कराया गया, 7253 पशुओं के लिए औषधी वितरण किया गया 20 पशुओं में कृत्रिम गर्भाधान व 42 बछड़ों का बधियाकरण भी किया गया इसके अतिरिक्त गौठान ग्राम में 87 बैकयार्ड कुक्कुट इकाई 04 नर बकरा, 06 नर सूकर एवं 01 डेयरी पालन के प्रकरण तैयार किये गये व 06 पैरा यूरिया उपचार प्रदर्शन किया गया।

विभाग द्वारा 01 अप्रैल 2021 से अभी तक जिले में 14537 पशुओं का उपचार एवं कृमिनाशक दवापान किया गया है। साथ ही 114721 गलघोटू, 126614 एकटंगिया का टीकाकरण, 669 गौ-वंशीय व भैंस- वंशीय मादा पशुओं में कृत्रिम गर्भाधान किया गया एवं 342 वत्सोत्पादन है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button