कारों की रेस लगा रहे थे तीन स्कूली लड़के, 1 की मौत

देर रात तीन लड़कों की कार रेस एक की जिंदगी का अंत करने के साथ खत्म हुई. दो युवक घायल हुए हैं. इस कार रेस में इस्तेमाल होने वाली तीनों कारें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई हैं. तीनों लड़के शहर के एक इंटरनेशनल स्कूल के छात्र हैं. वे तीनों रात को शहर के एक्सप्रेस-वे पर निकल गए थे. तीनों अपने पिता की कारों को चला रहे थे.

पुलिस ने बताया कि युवकों ने स्वीकार किया है कि वह 150 से अधिक किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से कार चला रहे थे. इसी दौरान रविवार को करीब 3 बजे उन्होंने कार से नियंत्रण खोया. फ्लाईओवर की रेलिंग से टकराने के बाद इनमें से एक स्कोडा चला रहे 17 साल के छात्र की मौत हो गई. इनोवा चला रहा दूसरे युवक ने विपरीत दिशा से आ रही लॉरी को टक्कर मारी. इसमें लॉरी के ड्राइवर को कोई चोट नहीं लगी, लेकिन किशोर को मामूली रूप से चोट लगी है. तीसरा युवक एसयूवी चला रहा है था, उसे मामूली चोटे आईं हैं, हालांकि उसकी गाड़ी बुरी तरह टूट गई है.

पुलिस ने युवकों और उनके पिता के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है. इन तीनों युवकों के पिता में से दो आईटी प्रोफेशनल हैं. ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी ने बताया कि लड़कों ने दावा किया है कि वे पहले भी अपने स्कूल के दोस्तों के साथ इस तरह की ड्राइव कर चुके हैं. इससे जानमाल का और नुकसान हो सकता था.

हमने पिता को गिरफ्तार किया है क्योंकि वाहन उनके नाम पर पंजीकृत है और लड़कों पर नजर रखने की जिम्मेदारी उनकी है.

बेंगलुरु की ट्रैफिक पुलिस लगातार सीसीटीवी और सोशल मीडिया के जरिए सड़कों पर नजर बनाए हुए है. सड़कों पर इस तरह के स्टंट करने वालों पर उसकी पूरी नजर है.

Back to top button