बैतूल: रेल यातायात मे फिर से हुयी लापरवाही, मालगाड़ी के तीन डिब्बे उतरे

ट्रैक क्लियर होने के बाद शाम 4.20 बजे जीटी एक्सप्रेस को रवाना किया गया। दोपहर 2 बजे के बाद बैतूल से रवाना की गई यह पहली ट्रेन थी।

मरामझिरी रेलवे स्टेशन पर मालगाड़ी के तीन डिब्बे पटरी से उतर गए। अप ट्रैक की लूप लाइन पर हुई दुर्घटना से घंटों तक रेल यातायात ठप रहा। 26 नवंबर को इसी स्टेशन पर कोयले से भरी मालगाड़ी बेपटरी हुई थी।

रविवार दोपहर करीब दो बजे नागपुर से इटारसी की ओर जा रही अनाज से भरी मालगाड़ी को मरामझिरी स्टेशन पर मेन लाइन की लूप लाइन पर लिया जा रहा था।

तभी 10 में से तीन डिब्बे पटरी से उतर गए। इसके बाद जयपुर सुपर फास्ट (12975) दोपहर 2.05 बजे से बैतूल स्टेशन, गंगाकावेरी एक्सप्रेस (12669) दोपहर 2.09 बजे से आमला स्टेशन पर, जीटी एक्सप्रेस (12615) दोपहर 3.05 से बरसाली और गोंडवाना सुपर फास्ट (12405) दोपहर 3.24 बजे से जौलखेड़ा स्टेशन पर रोक दिया गया।

ट्रैक क्लियर होने के बाद शाम 4.20 बजे जीटी एक्सप्रेस को रवाना किया गया। दोपहर 2 बजे के बाद बैतूल से रवाना की गई यह पहली ट्रेन थी।

एक सप्ताह में दूसरी दुर्घटना

मरामझिरी स्टेशन की अप ट्रैक की लूप लाइन पर यह एक सप्ताह में दूसरी दुर्घटना है। 26 नवम्बर को भी इसी जगह कोयले से भरी मालगाड़ी बेपटरी हुई थी। उस समय भी कुछ ट्रेनों को पीछे के स्टेशनों पर कुछ समय तक रोके रखना पड़ा था।

 

Back to top button