भारतीय टीम को कोई कैश प्राइज नहीं दिए जाने पर भड़के गावस्कर

भारत ने मेलबर्न वनडे 7 विकेट से जीतकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2-1 से वनडे सीरीज जीतीं।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने वनडे सीरीज जीतने वाली भारतीय टीम को कोई कैश प्राइज नहीं दिए जाने पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपनी नाराजगी जाहिर की है।

उन्होंने कहा कि इस सीरीज के जरिए ऑस्ट्रेलिया ने जो भी लाभ कमाया उसमें खिलाड़ी भी हिस्से के हकदार थे।

भारत ने मेलबर्न वनडे 7 विकेट से जीतकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2-1 से वनडे सीरीज जीतीं। तीसरे वनडे में 6 विकेट लेने वाले चहल को मैन ऑफ द मैच चुना गया जबकि धोनी मैन ऑफ द सीरीज बने।

इन दोनों खिलाड़ियों को ईनाम के तौर पर 500 डॉलर यानी लगभग 35 हजार रुपए दिए गए। इन दोनों खिलाड़ियों ने पुरस्कार में मिली ये राशि चैरिटी में दान कर दी।

इस बात पर गावस्कर ने नाराजगी जताई कि आखिरकार जीतने वाली टीम को कोई नकद पुरस्कार क्यों नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि ईनाम में सिर्फ 500 डॉलर।

ये बहुत गलत बात है। सीरीज का आयोजन करने वाले देश ने प्रसारण अधिकार से काफी पैसा कमाया तो वो खिलाड़ियों को अच्छी नकद राशि क्यों नहीं दे सकते। आखिरकार उन्हें खिलाड़ियों की वजह से ही इतनी रकम मिली है।

गावस्कर ने टेनिस का उदाहरण देते हुए कहा कि विम्बल्डन चैंपियन को देखिए कितनी ईनामी राशि मिली है। खिलाड़ियों के कारण ही आयोजकों की कमाई होती है तो उन्हें भी ईनाम के तौर पर अच्छी राशि मिलनी चाहिए।

आपको बता दें कि वर्ष 2018 में विम्बल्डन के विजेता खिलाड़ी को 21 करोड़ रुपए ईनाम के तौर पर मिले थे। वहीं पहले राउंड में बाहर होने वाले खिलाड़ियों को भी करीब 36 लाख रुपए मिले थे।

 

1
Back to top button