छत्तीसगढ़

बड़े ही हर्षोल्लास के साथ धूमधाम से मनाया गया भगत सिंह की 113 जयंती

राजशेखर नायर:

नगरी: नगरी समीपस्थ ग्राम गोरेगांव में प्राथमिक शाला एवं माध्यमिक शाला के संयुक्त तत्वाधान में वीर सपूत शहीद भगत सिंह की 113 जयंती बड़े ही हर्षोल्लास के साथ धूमधाम से मनाया गया।

मुख्य अतिथि लेख रामगंज वेद विधायक प्रतिनिधि व अध्यक्षता कृष्ण कुमार मंडावी अध्यक्ष विद्यालय प्रबंध समिति थे। अतिथियों ने मां शारदे व शहीद भगत सिंह के तैल चित्र पर दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया।

अतिथियों ने अपने संबोधन में कहा कि भगत सिंह का जन्म 28 सितंबर 1907 को पंजाब के बावली गांव लाहौर पाकिस्तान मैं एक सिख परिवार में हुआ। भगत सिंह ने सभी नौजवानों को नई दिशा प्रदान किया। भगत सिंह का प्रमुख नारा था इंकलाब जिंदाबाद इंकलाब जिंदाबाद। इन्होंने जलियांवाला बाग हत्याकांड व चोरी चोरा कांड का विरोध किया।

भगत सिंह को 23 मार्च 1931 को राजगुरु सुखदेव भगत सिंह फांसी दिया गया। यह महान कर्मवीर थे। इनका कथन था बहरों को सुनाने के लिए धमाकों की जरूरत होती है। उक्त अवसर पर नेकपाल श्रीमाली फुलेश्वरी पायल चन्द्रप्रभा साहू चंद्रवंशी व पटेल मैडम ने भी सभा को संबोधित किया केपी साहू प्रधान पाठक गोरेगांव ने आभार व्यक्त किया।

Tags
Back to top button