भगवती राजराजेश्वरी आज मध्यरात्रि भद्रकाली के रूप में पूजी जाएंगी

रायपुर : जगद्गुरु शंकराचार्य आश्रम रायपुर के प्रमुख ब्रह्मचारी डॉ इंदुभवानंद ने बताया कि 24 मार्च को सुबह 9:26 बजे सप्तमी तिथि खत्म होकर अष्टमी तिथि में पदार्पण करेगी तथा रात 12 बजे भगवती का विशेष काल रात्रि निशा पूजन भद्रकाली के रूप के किया जाएगा। ब्रह्मचारी डॉ इंदुभवानंद ने बताया कि माँ भद्रकाली को दही वड़े का विशेष भोग लगेगा साथ ही 1008 कमल व गुलाब से अर्चन कर महाआरती होगी।

आगे उन्होंने बताया कि 25 मार्च को सुबह 7 बजे नवमी तिथि लग जायेगी जिस हेतु सुबह 10 से 12 बजे के मध्य हवन होंगे तथा इसके पश्चात कन्या पूजन व कन्या भोजन होंगे और उसी दिन महा भंडारे का आयोजन भी किया गया है। आज नवरात्रि के छठवें दिन शंकराचार्य आश्रम में विराजित भगवती राजराजेश्वरी के मंदिर में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। सभी भक्तों ने सर्वप्रथम ज्योत का दर्शन किये तथा संध्या कालीन व रात्रिकालीन महापूजन में सम्मिलित होकर पुष्पांजलि अर्पित किए और महा आरती कर भगवती का प्रसाद चरणामृत के रूप में ग्रहण किये।

इस विशेष पूजन में आचार्य धर्मेंद्र महाराज, डीजीपी जेल गिरधारी नायक, एमएल पांडेय, डीपी तिवारी, महेंद्र तिवारी , रत्नेश शुक्ला, शैलू नंदा, नरसिंह चंद्राकर, कस्तूरी चटर्जी, ज्योति नायर, सोनू चंद्राकर, गौतम मिश्रा, रुद्राभिषेक तिवारी, श्रीकृष्ण तिवारी व आदि भक्तगण उपस्थित हुए और भगवती राजराजेश्वरी का पूजन कर आशीर्वाद प्राप्त किये।

advt
Back to top button