कोंकण में ढहाया जाएगा भगोड़ा नीरव मोदी ‘अवैध’ बंगला

महाराष्ट्र सरकारकी बड़ी कार्रवाई

मुंबई : देश से फरार चल रहे पीएनबी घोटाले के आरोपी नीरव मोदी और उनके चाचा मेहुल चौकसी के खिलाफ महाराष्ट्र सरकार बड़ी कार्रवाई करने जा रही है। महाराष्ट्र सरकार कोंकण स्थित नीरव मोदी के अवैध बंगले को ढहाएगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राज्य के पर्यावरण मंत्री रामदास कदम ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने कोंकण स्थित नीरव मोदी के अवैध बंगले को ढहाने का आदेश दे दिया है। उन्होंने आगे कहा कि मुरुड और अलीबाग में बॉलीवुड कलाकारों और कुछ उद्योगपतियों के नाम पर 162 बंगले हैं। कदम ने कहा कि उन 162 बंगलों में से एक के मालिक मेहुल चोकसी भी हैं। मंत्री ने कहा कि इस मामले की सुनवाई नेशनल ग्रीन ट्रिब्युनल के समक्ष होगी और 2-3 महीनों में जल्द ही इस पर कार्रवाई शुरू हो जाएगी। उन्होंने कहा कि इन 162 अवैध बंगलों के मालिकों को 1 लाख रुपये का जुर्माना भरने के साथ पांच के लिए जेल जाना पड़ सकता है।

13,400 करोड़ के पीएनबी घोटाला में है मुख्य आरोपी
हाल में यह खबर आई थी कि 13,400 करोड़ रुपये के पीएनबी घोटाला मामले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी लंदन में कहीं रह रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक लंदन ने माना है कि वहां नीरव मोदी को देखा गया। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने गृह मंत्रालय के जरिये लंदन को प्रत्यर्पण अनुरोध भेजा है। इस मामले में सीबीआई ने नीरव मोदी की तत्काल हिरासत का अनुरोध करते हुए उनके खिलाफ जारी इंटरपोल रेड नोटिस की कॉपी जमा की है। जुलाई में इंटरपोल नीरव मोदी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था और 192 सदस्य देशों से कहा था कि अगर आरोपी कहीं भी दिखे तो दबोच लिया जाए ताकि उसके प्रत्यर्पण या निर्वासन की कार्यवाही शुरू हो सके।

इंटरपोल ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के द्वारा नीरव मोदी के खिलाफ लगाए गए मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों को सूचिबद्ध किया है। बता दें कि कर्मचारियों की कथित मिलीभगत से कथित तौर पर अंजाम दिए गए अरबों के पीएनबी घोटाले में नीरव मोदी और मेहुल चोकसी कि खिलाफ ईंडी और सीबीआई के द्वारा जांच की जा रही है। नीरव मोदी और उनके चाचा मेहुल चोकसी ने बिजनेस और सेहत समेत कई कारणों का हवाला देते हुए भारत लौटने से मना कर दिया है। सीबीआई पहले कह चुकी है कि भारत सरकार के द्वारा 24 फरवरी को पासपोर्ट निरस्त किए जाने की सूचना इंटरपोल के सेंट्रल डेटाबेस में आने के बाद भी नीरव मोदी कई देशों की यात्रा करने में कामयाब रहे हैं।

Back to top button