बुराड़ी केस : भाटिया परिवार के पालतू कुत्ते टॉमी ने भी तोड़ा दम

परिवार के सभी सदस्यों की मौत के बाद पालतू कुत्ते 'टॉमी' को हाउस अॉफ स्ट्रे एनिमल्स (HSA) को सौंपा गया था.

नई दिल्ली : दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के जिन 11 सदस्यों की मौत हो गई, उनके पालतू कुत्ते टॉमी ने भी 22 दिनों बाद रविवार को दम तोड़ दिया. पुलिस ने बताया कि शाम को हृदय गति रुकने से मौत हो गई.

परिवार के सभी सदस्यों की मौत के बाद पालतू कुत्ते ‘टॉमी’ को हाउस अॉफ स्ट्रे एनिमल्स (HSA) को सौंपा गया था. यहां उसकी देखभाल की जा रही थी. लेकिन रविवार यानी कल शाम को करीब 7 बजे टॉमी अचानक गिर गया और उसकी मौत हो गई.

HSA के संस्थापक संजय महापात्रा ने बताया कि भाटिया परिवार की मौत के टॉमी को यहां लाया गया था और उसकी बारीकी से देखभाल की जा रही थी. काफी सुधार भी हो गया था, लेकिन कल शाम को अचानक वह गिर गया और मौत हो गई.

हालांकि मौत की वजह साफ नहीं है. पोस्टमार्टम के बाद ही कारणों का पता लग पाएगा. टॉमी की मौत की सूचना बुराड़ी पुलिस और नोएडा पुलिस को दे दी गई है. संजय महापात्रा कहते हैं कि कल शाम को टॉमी आराम से टहल रहा था.

सबकुछ ठीक था, लेकिन अचानक यह सब हो गया. वह कहते हैं कि हो सकता है कि मौत की वजह सदमा हो, लेकिन दोपहर तक पोस्टमार्टम होने के बाद ही यह साफ हो पाएगा.

आपको बता दें कि उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 सदस्य एक जुलाई को एक साथ मृत पाये गये थे. इनमें से 10 के शव फंदे से लटक रहे थे, जबकि सबसे बुजुर्ग महिला नारायणी देवी का शव मकान के दूसरे कमरे में फर्श पर पड़ा हुआ था.

शव जिस जाल से लटका पाया गया था, टॉमी ठीक उसके उपर ही बंधा था. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया था कि दिल्ली पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट प्राप्त हो गई है. अधिकारी ने बताया कि नारायण देवी के शव के निकट एक बेल्ट मिली थी.

उन्होंने बताया कि रिपोर्ट में किसी साजिश की आशंका से इनकार किया गया है और कहा गया है कि उसकी मौत लटकने के कारण हुई है. पुलिस को परिवार के दस अन्य सदस्यों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट पहले ही मिल गई थी. जिसमें उनकी मौत का कारण हैंगिंग बताया गया था.

Back to top button