भिलाई निगम के तोडूं दस्ते ने कई दुकानों पर चलाया बुलडोज़र

भिलाई : निगम प्रशासन की ओर से शनिवार को बेदखली कार्रवाई के दौरान 40 चिन्हित कब्जों को हटाया गया। शनिवार को पुलिस बल और एसडीएम मौजूद थे। निगम के अफसर गुमटी के ऊपर लगे टिन शेड को जेसीबी से तोड़ते रहे इसका विरोध भी हुआ। दुकानदारों ने कहा कि टिन शेड सिर्फ बरसात और धूप से बचने के लिए लगाया है।

जमीन पर कहीं कब्जा नहीं किया गया। इसके बावजूद निगम अफसरों ने एक न सुनी और कहा कि हमने नोटिस दिया है इसलिए अवैध कब्जा तोड़े जाएंगे।

नगर निगम की ओर से लगातार छोटे व्यावसासियों का ही कब्जा हटाने का काम किया जा रहा है। बार-बार यह बात सामने आ रही है कि निगम में बड़े कब्जेदारों की पूरी लिस्ट है। भिलाई निगम का राजस्व अमला इतना ताकतवर है कि इन बड़े कब्जेधारियों को हर बार किसी न किसी बहाने बचा ले जाता है। कुछ रसूखदार सीधे कोर्ट पहुंच जाते हैं। ऐसे ही रसूखदारों के 36 मामले कोर्ट में लंबित है।

दस्ते की मौजूदगी में चिन्हित 40 गुमटियों के टिन शेड उखाड़ दिए गए। यहां तक कि तोडूं दस्ते ने कई दुकानों के मीटर को भी नहीं छोड़ा। टिन शेड के चक्कर में मीटर तक उखड़ गए। इस बात को लेकर गुमटी संचालकों ने विरोध किया। गुमटी संचालकों ने जोन आयुक्त संजय बांगड़े से कहा कि इससे अच्छा गुमटी ले जाएं। टिन शेड सिर्फ बरसात और धूप से बचने के लिए लगाया गया था, जमीन पर कोई कब्जा नहीं किया गया है।

तोडफ़ोड़ अभियान में पुलिस बल के साथ जोन 1 के जोन आयुक्त संजय बागड़े, उपयंत्री कनिका, पीआरओ सुभाष सिंह ठाकुर, तोडफ़ोड़ प्रभारी अधिकारी यतीन्द्र नाथ देवांगन, सहायक राजस्व अधिकारी मलखान सिंह सोरी, आरआई डीपी शर्मा, बालकृष्ण नायडू, अंजनसिंह सहित जोन 1 के अन्य अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित थे।

advt
Back to top button