छत्तीसगढ़

किसानों के मेहनत का पैसा चार किश्तों में देकर अन्याय कर रही भूपेश सरकार- मनोहर मानिकपुरी

राजशेखर नायर:

नगरी: भाजपा बेलर मंडल नगरी के महामंत्री मनोहर मानिकपुरी ने प्रदेश की भूपेश बघेल सरकार द्वारा किसानों के धान की अंतरराशि की पहली किश्त जारी किए जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में 2500 रुपये प्रति क्विंटल की दर से किसानों के धान खरीदी का वादा किया था।

लेकिन सरकार बनने के बाद अब उस राशि को चार किश्तों में देने की बात कर रही है, आज पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी जी की पुण्यतिथि पर न्याय योजना बनाकर किसानों के साथ अन्याय कर रही है और पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का अपमान भी प्रदेश सरकार कर रही है।

प्रदेश सरकार ने स्पष्ट किया है कि प्रति एकड़ दस हजार रुपए अंतरराशि किसानों को प्रदान करेगी किंतु एक एकड़ में 14 क्विंटल 80 किलो की मात्रा खरीदी गई जिसका 685 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से एक एकड़ में दस हजार रुपये से अधिक की राशि बनती है लेकिन किसानों को उनकी मेहनत की कम राशि देकर सरकार मेहनतकश किसानों पर कोरोना टैक्स लगा रही है।

सरकार ने पूर्व में दो किश्तों में अंतरराशि देने का निर्णय लिया था अब चार किश्तों में देने की बात कह रही है सरकार आज पहली किश्त जारी कर रही है लेकिन शेष राशि को कब तक किसानों को देगी इस पर अनिश्चितता बनी हुई है जिससे इस संकटकाल में किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें उभरना स्वाभाविक है।

प्रदेश की कांग्रेस सरकार अपने चुनावी वादों को पूरा नहीं कर प्रदेश की जनता की छाती पर कुठाराघात कर रही है। महिलाओं ने बड़ी उम्मीदों के साथ कांग्रेस को समर्थन दिया था लेकिन शराबबंदी न कर सरकार मातृशक्तियों के साथ छल कर रही है इसी प्रकार बेरोजगारी भत्ता देने की बात कही लेकिन आज तक किसी भी बेरोजगार युवाओं को बेरोजगारी भत्ता नहीं मिली है।

सीधे शब्दों में कहें तो प्रदेश की भूपेश बघेल सरकार छत्तीसगढ़ की मेहनतकश जनता के साथ वादा खिलाफी कर रही है जिसका भाजपा मुखरता के साथ विरोध करेगी और किसानों के अधिकारों के साथ खड़ी रहेगी।

Tags
Back to top button