छत्तीसगढ़राजनीति

भूपेश सरकार ने कालाबाजारी के लिए भेजा दुकानों में चावल: भाजपा

जान बूझकर नहीं बांटे जनता को राशन कार्ड,इस नान घोटाले के लिए कब एसआईटी गठित करेंगे बघेल

रायपुर। राजधानी रायपुर के एक लाख दस हजार परिवारों के लिए आवंटित चावल को लेकर भारतीय जनता पार्टी प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाया है कि जब 30 हजार राशन कार्ड अब तक बांटे ही नहीं गए हैं, तब नागरिक आपूर्ति निगम के जरिए आखिर किसके लिए उन हितग्राहियों के हिस्से का भी चावल दुकानों में भेज दिया गया, जिन्हें अब तक राशन कार्ड बांटे ही नहीं गए।

उन्होंने पूछा कि कांग्रेस सरकार ने यह चावल कालाबाजारी के लिए तो नही भेजा गया है इसलिए ही तो जनता को जानबूझकर कार्ड नहीं बांटे गए हैं।
भाजपा प्रवक्ता उपासने ने कहा कि भूपेश राज में हुए इस नान घोटाले के लिए अब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कब एसआईटी का गठन करने जा रहे हैं?
भाजपा प्रवक्ता उपासने ने कहा कि पूरे प्रदेश में इसी तरह की कारस्तानी करने के लिए पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर राजधानी में एक लाख से अधिक हितग्राहियों के नाम पर राशन दुकानों तक चावल भेजा गया है।

आगे चलकर पूरे प्रदेश में इसी तरह कालाबाजारी के लिए सरकार के इशारे पर चावल घोटाले की तैयारी की गई है।
भाजपा प्रवक्ता उपासने ने कहा कि यह बहुत गंभीर मामला है कि एक तरफ जनता को राशन कार्ड के लिए भटकाया जा रहा है और दूसरी तरफ राशन दुकानों तक समस्त हितग्राहियों की संख्या के हिसाब से चावल की आपूर्ति की गई है। इस संदेह के पर्याप्त कारण है कि राशन दुकानों के जरिए इस चावल की खेप बाजार तक पहुंचा दी जाएगी।

यह गहन जांच का विषय है कि तीस हजार परिवारों को राशन कार्ड दिए बिना ही उनके नाम पर चावल की आपूर्ति कैसे कर दी गई। उन्होंने कहा कि शराब में ओव्हर रेट के जरिए भूपेश टैक्स वसूलने वाली सरकार ने अब जनता का चावल खाने का रास्ता भी निकाल लिया है।

Tags
Back to top button