सुप्रीम कोर्ट की चार सदस्यी कमेटी से अलग हुए भूपिंदर सिंह मान

किसान नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़कर आंदोलन छोड़ने को राजी नहीं

नई दिल्ली:सुप्रीम कोर्ट की चार सदस्यी कमेटी में शामिल सस्दय भूपिंदर सिंह मान ने खुद को कमेटी से अलग कर लिया है| भूपिंदर सिंह मान के अलग हो जाने पर अब चार सदस्यी इस कमेटी में तीन सदस्य ही बचे हैं| जिनका नाम अशोक गुलाटी, अनिल घनवंत और प्रमोद जोशी है|

किसान कमेटी से बात करने को राजी नहीं है| उनका सीधी पहली बात ये है कि कानून रद्द किये जाएँ, कमेटी न बनाई जाये| किसानों का आरोप है जो कमेटी बनाई भी गई है उसमें शामिल लोग नए कृषि कानून के समर्थक हैं|

12 जनवरी को सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने इन चार सदस्यों की कमेटी बनाई थी। जानिए इनके बारे में….

  1. प्रमोद जोशी- नेशनल एकेडमी ऑफ एग्रिकल्चर रिसर्च मैनेजमेंट के डायरेक्टर रह चुके प्रमोद कुमार जोशी को आर्थिक-कृषि मामलों का जानकार माना जाता है|

  2. अनिल घनवंत- महाराष्ट्र के बहुचर्चित शेतकारी संगठन के प्रमुख अनिल घनवंत की किसानों पर पकड़ मानी जाती है| इस संगठन की शुरुआत किसान नेता शरद जोशी ने की थी, जिनकी मांग थी कि किसानों को खुले बाजार में आने का अवसर मिले|

  3. अशोक गुलाटी- कृषि विशेषज्ञ अशोक गुलाटी ICRIER में तीन साल प्रोफेसर रह चुके हैं| भारत सरकार को MSP के मुद्दे पर सलाह देने वाली कमेटी के सदस्य भी रह चुके हैं, 2015 में उन्हें पद्म श्री सम्मान दिया गया|

  4. भूपिंदर सिंह मान- पूर्व राज्यसभा सांसद रह चुके हैं| भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष हैं| इसके साथ ही वह ऑल इंडिया किसान कॉर्डिनेशन कमेटी के प्रमुख भी हैं|

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button