बड़ा एक्शनः DGP की सख्ती के बाद तीन पुलिस अधिकारी सस्पेंड, 60 किए गए रिलीव, डीएसपी को नोटिस जारी

डीजीपी की नाराजगी के बाद बिलासपुर के टीआई को आज बलरामपुर के लिए कार्यमुक्त कर दिया गया।

रायपुर 22 सितंबर। डीजीपी डीएम अवस्थी की नाराजगी और सख्त निर्देश के बाद स्थानांतरित हुए लगभग 60 पुलिस अधिकारियों, कर्मचारियों को सम्बन्धित पुलिस अधीक्षकों ने आज कार्यमुक्त कर दिया।

उन्होंने रविवार को अवकाश होने के बाद भी सूबे के एसपी और आईजी को फैक्स संदेश भेजकर कहा था कि ट्रांसफर के बाद जो अधिकारी रिलीव नहीं हो रहे हों, उनके खिलाफ तत्काल एक्शन लिया जाए। अवस्थी ने सोमवार को एआईजी प्रशासन को निर्देश भी दिया था कि वे मुझंे बताएं कि प्रदेश में कितने अधिकारियों ने ट्रांसफर के बाद भी अभी तक ज्वाईन नहीं किया है।

तरकश में बिलासपुर के बिल्टा थाने के टीआई के बारे पटले के बारे में खबर प्रकाशित हुई थी कि डीजीपी ने शिकायतों के बाद टीआई का अपने दस्तखत से बलरामपुर ट्रांसफर किया था। टीआई का सिंगल आर्डर निकला था। इसका मतलब यह होता है कि शिकायत गंभीर रही होगी। लेकिन, डीजीपी के आदेश के बाद भी टीआई हिले नहीं।

डीजीपी की नाराजगी के बाद बिलासपुर के टीआई को आज बलरामपुर के लिए कार्यमुक्त कर दिया गया। डीजीपी के निर्देश पर स्थानान्तरण के बाद कार्यमुक्त होने पर भी ज्वाईन ना करने वाले 12 पुलिस अधिकारियों, कर्मचारियों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की गई है। जिसमें एक डीएसपी को कारण बताओ नोटिस और तीन अधिकारियों को सस्पेंड किया गया है। जिन पुलिस अधिकारियों पर निलम्बन की कार्रवाई की गई है उनमें दो एसएसआई और एक हेड कॉन्स्टेबल शामिल हैं। कार्रवाई के बाद सभी को चार्जशीट भी सौंपी जा रही है।

इसके साथ ही एक एसआई, एक स्टेनोग्राफर, 3 हेड कॉन्स्टेबल और 3 कॉन्स्टेबल को ज्वाईन ना करने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

उल्लेखनीय है कि डीजीपी ने दो दिन पहले सभी एसपी और इकाई प्रमुखों को निर्देश दिए थे कि ज्वाइनिंग टाइम बीत जाने के बाद भी जिन पुलिस अधिकारियों ने अब तक ज्वाईन नहीं किया है, उनके विरुद्ध तत्काल निलम्बन की कार्रवाई कर चार्जशीट सौंपी जाए। अवस्थी ने निर्देश दिये हैं कि कार्यमुक्त हुए अधिकारियों ने तय समय पर ज्वाईन नहीं किया तो फिर से समीक्षा कर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button