मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कार्यक्रम में देखने को मिली बड़ी चूक

मंच के पास आग लगते ही हड़कंप मच गया

भोपालः राजधानी भोपाल में स्कूल शिक्षा विभाग के एक कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में कार्यक्रम के समापन के दौरान हुई आतिशबाजी के बाद अचानक से आग लग गई. जिससे मौके पर अफरा-तफरी मच गई. इस दौरान सीएम शिवराज, उनकी पत्नी साधना सिंह और स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार कार्यक्रम में मौजूद थे. गनीमत रही कि आग पर जल्दी काबू पा लिया गया.

अनुगूंज कार्यक्रम में पहुंचे थे सीएम

शिवराज दरअसल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम ‘अनुगूंज-2021’ के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद थे. कार्यक्रम में स्कूली बच्चों ने प्रस्तुतियां दी, जैसे ही अंतिम प्रस्तुति खत्म हुई तो आतिशबाजी शुरू हो गई.

इस दौरान ही अचानक से आग लग गई. मंच के पास आग लगते ही हड़कंप मच गया. जैसे ही आग ली तो सीएम शिवराज के सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें कवर लिया. हालांकि मुख्यमंत्री ने खुद आगे आकर आग पर काबू पाने के निर्देश दिए.

समय रहते आग पर पा लिया गया काबू

मौके पर मौजूद कर्मचारियों की मदद से तत्काल आग पर काबू पा लिया गया, जिससे कोई बड़ी दुर्घटना नहीं हो पाई. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस के बड़े आलाधिकारी मौके पर पहुंचकर मामले की जांच में जुट गए है. बताया जा रहा है कि आतिशबाजी के दौरान लाइटिंग में लगी पन्नी ने आग पकड़ ली, जिससे यह घटना हुई.

घटना के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्कूली बच्चों का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि इस तरह के कार्यक्रम आगे भी होते रहेगे. मध्य प्रदेश सरकार स्कूली बच्चों के लिए लगातार इस तरह की योजनाएं चलाती रहेगी.

सीएम ने कहा कि विद्यार्थियों की चहुमुंखी क्षमता को विकसित करने के लिए अब प्रत्येक सरकारी शालाओं में प्रतिवर्ष वार्षिक उत्सव आयोजित किए जाएंगे. इसमें कला, संस्कृति, परम्पराओं पर आधारित सांस्कृतिक प्रस्तुतियां होंगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि अनुगूंज कार्यक्रम में सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देने वाले प्रत्येक छात्र-छात्राओं को 5 हजार रूपए सम्मान निधि दी जाएगी और उन्हें मुख्यमंत्री निवास में पूरी टीम के साथ सम्मानित किया जाएगा.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button