क्राइमछत्तीसगढ़राज्यराष्ट्रीय

बड़ी खबर: अंतर्राष्ट्रीय डेटा हैक कर धोखाधड़ी करने वाले 3 नाबालिग गिरफ्तार..

लड़कियों की फर्जी आईडी बना क्रेडिट कार्ड हैकिंग के जरिए लगाया लाखों का चूना.. 25 लाख के सामान जब्त..

बिलासपुर– लड़कियों की फर्जी आईडी बना क्रेडिट कार्ड हैक कर धोखाधड़ी करने वाले तीन नाबालिगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, और उनके पास से महंगे मोबाइल, लेपटॉप और इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस समेत 25 लाख के सामान जब्त कर कार्रवाई कर रही है।

बिलासपुर में आलिशान जिंदगी जीने के शौक में जुर्म की दुनिया में कदम रखने वाले नाबालिक लड़कों की हैरान करने वाली कहानी सामने आई है। पिछले कुछ दिनों से बिलासपुर शहर के कुछ अपराधी अंतरराष्ट्रीय क्रेडिट कार्ड को हैक कर ऑनलाइन शॉपिंग साइट जैसे फ्लिपकार्ट, अमेजॉन से महंगे आईफोन, मोबाइल, हैंडसेट, घड़ी आदि मंगा रहते हैं।

पुलिस तक इसकी खबर पहुंची तो पुलिस के भी कान खड़े हो गए। बिलासपुर के साइबर सेल एक्सपोर्ट कलीम खान को इसकी जिम्मेदारी दी गई।

गूगल w3school आदि साइट से सीख कर इसका प्रयोग भी करने लगे

जिसके बाद उन्होंने डिजिटल सर्विलेंस के माध्यम से जानकारियां जुटाना शुरू किया, तो पता चला, कि कुछ नाबालिक बालक हैकिंग के नए-नए तरीके यूट्यूब ,गूगल w3school आदि साइट से सीख कर इसका प्रयोग भी करने लगे हैं।

कम समय में अधिक से अधिक पैसे कमा कर ऐशो आराम की जिंदगी जीने की ख्वाहिश में ये बच्चे अपराध के दलदल में फंसते चले गए। नए जमाने के इन शातिर बच्चों ने फेसबुक, इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लड़कियों के नाम से फर्जी अकाउंट बनाया था।

कहने को तो यह बच्चे थे लेकिन इनका दिमाग बेहद शातिर था। लड़कियों के नाम से फर्जी अकाउंट बनाकर ये लोगों को अपने जाल में फंसाते थे, फिर वीडियो कॉलिंग के माध्यम से उन्हें बरगला कर उनके आपत्तिजनक वीडियो और कॉल रिकॉर्ड कर उसे सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर अवैध रकम ऑनलाइन पेमेंट वॉलेट के माध्यम से वसूल रहे थे।

क्रेडिट कार्ड से ठगी जैसी सारी जानकारियां

इनके पकड़े जाने के बाद पूछताछ में पुलिस को पता चला, कि यह सभी नाबालिक बचपन से ही मोबाइल और कंप्यूटर का उपयोग करते रहे हैं, इसलिए इन्हें हैकिंग, सोशल साइट का इस्तेमाल, क्रेडिट कार्ड से ठगी जैसी सारी जानकारियां है।

पहले तो इन लोगों ने कुछ लोगों को ब्लैकमेल कर उगाही की। इसके बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इन्होंने इंटरनेट के माध्यम से क्रेडिट कार्ड सर्वर द्वारा अंतरराष्ट्रीय क्रेडिट कार्ड नंबर हासिल कर उसका उपयोग अलग-अलग शॉपिंग साइट से महंगे महंगे आइटम खरीदने में करना शुरू कर दिया।

इससे वे महंगे इलेक्ट्रॉनिक उपकरण मंगाते और आपस में बांट लेते। उन्ही महंगे उपकरणों को सस्ते दामों पर लोगों को बेचकर नगद रकम हासिल कर ली जाती। काफी समय से नादान से दिखने वाले ये नाबालिग इस अपराध को अंजाम दे रहे थे।

इन नाबालिग आरोपियों ने बताया, कि इंटरनेट साइट से उन्होंने सारे अपराध सीखे हैं। इंटरनेट पर विभिन्न साइट का प्रयोग करते हुए अंतरराष्ट्रीय क्रेडिट कार्ड की जानकारी प्राप्त होती थी, जिसे वे प्रोक्सी सर्वर के माध्यम से कनेक्ट कर जिस देश का क्रेडिट कार्ड होता था, उस देश का आईपी हासिल कर लेते थे, फिर विदेश की मुद्रा से अंतरराष्ट्रीय क्रेडिट कार्ड के डिटेल को खरीदते थे, और उसी डिटेल के माध्यम से मनचाही परचेसिंग करते थे।

नाबालिगों ने दुनियाभर के इलाकों में चूना लगाया।

ये सभी इतने शातिर हैं, कि अंतरराष्ट्रीय क्रेडिट कार्ड की डिटेल फ्रॉड कर बेहद कम कीमत में महंगे सामान खरीद रहे थे, इसके लिए इन लोगों ने तमिलनाडु, उड़ीसा से पेटीएम एक्टिवेट किया था। जिसके लिए फर्जी सिम कार्ड का प्रयोग किया जा रहा था। बेहद हाईटेक तरीके से इन नाबालिगों ने दुनियाभर के इलाकों में चूना लगाया।

अब तक इन लोगों ने 60 से 70 महंगे मोबाइल मंगा कर बेच दिया है, जिसकी कीमत लाखो में है। कम उम्र के इन साइबर अपराधियों से पूछताछ में पुलिस भी हैरान रह गई, क्योंकि उनकी जानकारी पुलिस के साइबर एक्सपर्ट से कहीं अधिक थी। लड़कियों के अलग-अलग नाम से फर्जी अकाउंट बनाकर ये लोगों को झांसे में लेते थे।

लोगों से ऑनलाइन सामान खरीदने की बात

फिर लोगों से ऑनलाइन सामान खरीदने की बात कहकर उनसे नगद रकम प्राप्त कर लेते थे और ऑनलाइन पेमेंट सक्सेस का फर्जी मैसेज तैयार कर उसे दिखाकर रकम हड़प लेते थे । इतना ही नहीं यह लोग जोमैटो को भी चूना लगा रहे थे । जोमैटो को फूड ऑर्डर कर खाना मिलते ही उसे खाली कर ये खाना नहीं मिलने की कंप्लेंन कर रकम वापस ले लेते थे।

पुलिस ने डाटा हैक कर धोखाधड़ी करने वाले इस नाबालिक गैंग के पास से 25 से अधिक आईफोन, दो लैपटॉप, एक आईपैड, दो आई वॉच, 4G सिम कार्ड और एक कार भी जप्त किया है। इन लोगों ने 25 लाख के मोबाइल लैपटॉप इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस सोशल मीडिया में लड़की की फर्जी आईडी बनाकर बेची है। पुलिस इन शातिर नाबालिगों के खिलाफ जुर्म दर्ज कर कार्रवाई कर रही है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button