उत्तर प्रदेश

बड़ी खबर : आगरा यूनिवर्सिटी की फर्जी B.ed डिग्री पर बने थे 4 हजार शिक्षक

1701 को किया गया बर्खास्त

आगरा: उत्तर प्रदेश की आगरा यूनवर्सिटी की 2004-05 बीएड की फर्जी डिग्री के आधार पर करीब 4000 शिक्षकों को बेसिक में नौकरी मिल गई थी। उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षक भर्ती मामले में बड़ा खुलासा हुआ है. खुलासे में पता चला है कि लगभग 4 हजार शिक्षकों को फर्जी डिग्री के आधार पर सरकारी नौकरी मिली थी. उत्तर प्रदेश की आगरा यूनिवर्सिटी की 2004-05 बीएड की फर्जी डिग्री के आधार पर शिक्षकों को बेसिक में नौकरी मिल गई थी.

जुलाई 2018 में तत्कालीन अपर मुख्य सचिव (बेसिक) प्रभात कुमार ने जिलाधिकारियों से कहा था कि वे एडीएम की अगुआई में कमिटी बनाकर 2010 के बाद बेसिक में हुईं सभी भर्तियों की जांच करें। 2.25 लाख से अधिक पद जांच के दायरे में थे। फर्जीवाड़े की जांच बाद में एसआईटी को दे दी गई थी। जांच के आधार पर अब तक 1701 शिक्षकों को बर्खास्त किया जा चुका है।

बेसिक शिक्षा विभाग ने फर्जी दस्तावेजों के सहारे नौकरी करने पर बर्खास्त किए गए शिक्षकों से वसूली का नोटिस भी दिया है। शिक्षकों ने सरकार से जो भी वेतन या दूसरे मदों में भत्ते लिए हैं, उन सबकी वसूली शिक्षकों से ही हो रही है।

Tags
Back to top button