एसबीआई में खाता रखने वाले ग्राहकों के लिए बड़ी खुशखबरी, मिल रही ये सुविधाएं

कोरोना संकट में ग्राहकों के लिए डोरस्टेप बैंकिग सुविधा की शुरुआत

नई दिल्ली: देश की सबसे बड़ी बैंक एसबीआई(भारतीय स्टेट बैंक) ने कोरोना संकट में ग्राहकों के लिए डोरस्टेप बैंकिग सुविधा की भी शुरुआत की है. इस सुविधा में आपको कैश निकालने से लेकर पे ऑर्डर्स, नया चेकबुक, नया चेकबुक रिक्वेजेशन स्लिप संबधित कई तरह की सुविधाएं दे रहा है.

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में मिनिमम लिमिट 1,000 रुपये और मैक्सिमम लिमिट 20,000 रुपये की है. कैश विड्रॉल के लिए रिक्वेस्ट से पहले बैंक अकाउंट में पर्याप्त बैलेंस होना अनिवार्य है. ऐसा नहीं होने पर ट्रांजैक्शन कैंसिल हो जाएगा.

SBI ने अपने ऑफिशियल ट्विटर में लिखा है कि आपका बैंक अब आपके दरवाजे पर है. Doorstep banking के लिए आज ही रजिस्टर करें. अधिक जानकारी के लिए आप इस लिंक https://bank.sbi/dsb पर क्लिक कर सकते हैं.

डोरस्टेप बैंकिंग की खासियत

1. इसके लिए होम ब्रांच में रजिस्ट्रेशन कराना होगा.

2. जब तक कॉन्टैक्ट सेंटर पर ये सुविधा पूरी नहीं हो जाती तब तक होम ब्रांच में ही इसके लिए आवेदन करना होगा.

3. पैसे जमा करने और निकालने दोनों की अधिकतम सीमा रोजाना 20 हजार रुपये है.

4. सभी Non-financial transactions के लिए सर्विस चार्ज 60 रुपये+जीएसटी जबकि financial transactions के लिए ये 100 रुपये+जीएसटी है.

5. पैसा निकालने के लिए चेक और withdrawal form के साथ ही पासबुक की भी जरूरत होगी.

किन लोगों को नहीं मिलेंगी सुविधाएं

आपको बता दें ज्वाइंट अकाउंट, माइनर अकाउंट, जो नॉन-पर्सनल अकाउंट, वहीं जिन कस्टमर्स का रजिस्टर्ड एड्रेस होम ब्रांच के 5 किलोमीटर के रेडियस में है उन्हें ये सुविधा नहीं दी जाएंगी.

कितना लगेगा इसमें चार्ज?

डोरस्टेप बैंकिग में फाइनेंशियल और नॉन फाइनेंशियल सर्विस के लिए 75 रुपये+जीएसटी चार्ज लगेगा.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button