नीतीश कुमार ने बांधे पीएम मोदी की तारीफों के पुल

पटना: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पार्टी के नेता तो उनकी तारीफ़ करते ही रहते हैं लेकिन अगर प्रशंसा के शब्‍द बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के मुंह से आएं तो उसका अर्थ बढ़ जाता है.

रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लिखी किताब ‘सवा अरब भारतीयों का सपना’ के विमोचन पर नीतीश ने एक नहीं कई बार कहा कि उन्होंने कई प्रधानमंत्री देखा लेकिन नरेंद्र मोदी जैसा हिम्मतवाला और साहसी राजनेता नहीं देखा.

नीतीश ने कहा, ‘वो चाहे नोटबंदी का फ़ैसला हो या जीएसटी का ये काफ़ी हिन्मत भरा निर्णय है. इसका लाभ निश्चित रूप से पार्टी और देश के लोगों को होगा.’

उन्होंने ख़ासकर जीएसटी के लागू होने से लोगों और ख़ासकर व्यापारियों को हो रही दिक़्क़त पर कहा, इस क़दम से पारदर्शिता आयेगी, आख़िर छिप छिप कर कितना काम कीजिएगा.

नीतीश ने प्रधानमंत्री मोदी के समर्थन में कहा कि कोई भी बड़ा क़दम उठाने पर शुरुआत में दिक़्क़त आती है.

नीतीश कुमार ने कहा कि देश में मोदी जी के आने से लोगों में विकास के प्रति उम्‍मीद बढ़ी है. इससे पहले शनिवार को अपनी पटना यात्रा के क्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने भी नीतीश की तारीफ़ ये कह कर की थी कि उनकी विकास को लेकर प्रतिबद्धता हैं.

हालांकि पटना विश्व विद्यालय के शताब्दी दिवस कार्यक्रम में मोदी ने केंद्रीय विश्व विद्यालय के दर्जे की मांग को ख़ारिज कर दिया था. इसपर नीतीश का कहना था कि बोलेंगे नहीं तो मिलेगा कैसे कि ये चाहिये वो चाहिये.

लेकिन नीतीश को इस बात का अंदाज़ा है कि मोदी के तारीफ़ पर उनकी आलोचना होगी. इसके जवाब में उन्होंने लालू यादव का नाम लिए बिना कहा कि भ्रष्टाचार के मुद्दे पर वो अपने जीवन में समझौता नहीं कर सकते.

1
Back to top button