बिलासपुर कलेक्टर ने कर रखी थी पूरी तैयारी पर नहीं मिला मौका

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को बिलासपुर कलेक्टर समेत देशभर के 10 राज्यों के कलेक्टरों से कोरोना महामारी की तैयारियों को लेकर संबोधित किया।

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा
बिलासपुर : देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को बिलासपुर कलेक्टर समेत देशभर के 10 राज्यों के कलेक्टरों से कोरोना महामारी की तैयारियों को लेकर संबोधित किया। हालांकि बिलासपुर कलेक्टर की बारी नहीं आई, लेकिन प्रशासनिक अमले ने इसकी पूरी तैयारी कर ली थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को बिलासपुर, जांजगीर-चांपा, कोरबा व रायगढ़ के अलावा हरियाणा, केरल और महाराष्ट्र समेत देश के 10 राज्यों के कलेक्टरों के अलावा जिला स्तर के महामारी नियंत्रण में लगे अधिकारियों से वर्चुअल संवाद कर रहे थे। इस दौरान अधिकारियों ने उन्हें अपने-अपने जिलों में कोविड-19 की स्थिति में सुधार के बारे में जानकारी दी।

जिला प्रशासन 

इसकी तैयारी प्रशासनिक अमले ने पहले ही कर ली थी। अरअसल बिलासपुर जिले में जिला प्रशासन द्वारा कोविड प्रबंधन के लिए बनाई गई रणनीति के परिणाम स्वरूप जिले में पाजिटिविटी रेट 47 प्रतिशत से घटकर 15 प्रतिशत हो गई है। चार लाख से अधिक लोगों को कोविड टीका का प्रथम डोज और लगभग 70 हजार लोगों को दूसरा डोज लगाया जा चुका है।
जिले में कोरोना संक्रमण से प्रभावित 58 हजार से अधिक लोग स्वस्थ हो चुके हैं। कोरोना के संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर जिले में नियंत्रण का उपाय प्रारंभ कर दिया गया है। हाईफ्लो आक्सीजन बेड की संख्या बढ़ाई जा रही है।

शासकीय एवं निजी अस्पतालों में शिशु वार्ड में वृद्धि की जा रही है। जिले के हर जनपद मुख्यालय में कोविड केयर सेंटर की स्थापना की गई है। यह सब स्थायी स्ट्रक्चर हैं। कोविड से लड़ाई लगातार जारी रहेगी। कोरोना की यदि तीसरी लहर आती है तो जितने भी इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ाए गए हैं। उनका इस्तेमाल किया जाएगा।
इनोवेटिक कार्यक्रम करेंगे साझा: कलेक्टर

कलेक्टर डा. सारांश मित्तर का कहना है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर प्रदेश में कोरोना नियंत्रण के लिए प्रभावी कार्य किए जा रहे हैं। पीएम ने इसके लिए मुख्यमंत्री व प्रदेश को बधाई दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कोरोना महामारी से लड़ने के लिए निरंतर अपग्रेडेशन और इनोवेशन को जरूरी बताया है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button