बिलासपुर में कांग्रेसियों की पिटाई पर कांग्रेस ने ये कहा,अब यहां होगी कार्यकारिणी बैठक

भूपेश और पी एल पुनिया आज रात सीधे रायपुर आकर बिलासपुर रवाना हो जाएंगे

रायपुर:प्रदेश कांग्रेस ने बिलासपुर कांग्रेस भवन के अन्दर घुसकर पुलिस द्वारा निहत्थे कांग्रेसी कार्यकर्ताओं पर किये गए लाठीचार्ज की घटना पर आक्रोश जताया है .कांग्रेस ने पूरे घटनाक्रम की निंदा करते हुए सरकार पर जमकर हमला बोला .

राजधानी स्थित नए कांग्रेस भवन में प्रेस कांफ्रेंस में प्रदेश महामंत्री द्वय गिरीश देवांगन, शैलेश नितिन त्रिवेदी, किरणमयी नायक और अमित श्रीवास्तव ने संयुक्त रूप से कहा कि भाजपा की विपक्ष को कुचलने की फितरत है।उन्होंने कहा कि यदि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कुछ गलत किया था तो पुलिस कानूनी रूप से कार्रवाई करती। अदालत सजा देती अगर कुछ गलत था तो। उन्होंने कहा कि रमन सिंह दोनों घटनाओं की निंदा की और तुलना की।

अगर सीएम दोनों घटनाओं को एक ही नजरिए से देखते हैं तो ये उनका दृष्टिदोष है। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि एएसपी नीरज चंद्राकर ने कहा कि मेरा कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता है ,उन्हें अवश्य ही राजनीतिक संरक्षण मिला हुआ है तभी वे खुलेआम इस प्रकार की बाते कह रहे है ।

क्या अमर अग्रवाल इस तरह से कांग्रेस को साफ करेंगे यह प्रजातंत्र नहीं है।पुलिस ने कांग्रेस नेताओं को जान से मारने की नीयत से हमला किया है । कांग्रेस नेताओं ने कहा कि रमन सिंह द्वारा घोषित जांच हमको मंजूर नहीं है। हाईकोर्ट के सीटिंग जज की निगरानी में जांच होनी चाहिए ।

कांग्रेस नेताओं ने बताया कि कल की कार्यकारिणी की बैठक अब बिलासपुर में होगी .यह बैठक पहले रायपुर में होनी थी । उन्होंने बताया कि भूपेश और पी एल पुनिया आज रात सीधे रायपुर आकर बिलासपुर रवाना हो जाएंगे ।

इसके अलावा महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव भी बिलासपुर जाएंगी। पुलिस आज अगर उन्होंने किसी राजनीतिक दल के दफ्तर में घुसकर मार पीट कर रहे हैं तो भविष्य में ऐसी परंपरा डालने की कोशिश की है कांग्रेस नेताओं ने कहा कि प्रशासनिक अधिकारी सिर्फ मुखौटा हैं। कांग्रेस अब इसे भी जीरम की तरह मुद्दा बनाएगी।

झीरम में भी इसी तरह की हरकत हुई थी। वहां भी कुछ लोगों को चिन्हित कर मारा गया था। लाठीचार्ज नियमों के खिलाफ की गई है। निर्ममता की पराकाष्ठा हुई है। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि पहली लाठी ही सिर पर मारी गई है। उन्होंने घटनाक्रम की निंदा करते हुए कहा कि आगे की स्थिति पर कल फैसला लिया जाएगा।

Back to top button