बॉयो-बबल प्रोटोकॉल उल्लंघन, पूरी तरह से आ रही साजिश की बू: बीसीसीआइ अधिकारी

टीम इंडिया की तरफ से जैव-सुरक्षा प्रोटोकॉल का किसी भी तरीके से उल्लंघन नहीं हुआ

नई दिल्ली:टीम इंडिया के खिलाड़ियों द्वारा बॉयो बबल को तोड़ने का मामला 2 जनवरी को सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो के बाद सामने आया। ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने इस मामले को हेडलाइन बना दिया और मामला काफी गंभीर नजर आने लगा। इसके बाद दोनों देशों के क्रिकेट बोर्ड ने एक ज्वाइंट स्टेटमेंट पांचों खिलाड़ियों रोहित शर्मा, रिषभ पंत, नवदीप सैनी, शुभमन गिल और पृथ्वी शॉ को लेकर जारी किया जो इस घटना के बाद आइसोलेशन में हैं।

पीटीआइ से बात करते हुए बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने कहा कि वो बॉयो-बबल प्रोटोकॉल उल्लंघन के मामले में फंसे पांचों भारतीय खिलाड़ियों का पूरा साथ देंगे। अधिकारी ने कहा कि, इस मामले में पूरी तरह से साजिश की बू आ रही है। ये टीम इंडिया को अनसेटल करने के लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की बेहद खराब चाल है।

बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने पीटीआइ से बात करते हुए पूरी घटना की जानकारी दी और कहा कि, ये सारे खिलाड़ी रेस्टोरेंट के बाहर खड़े थे क्योंकि बारिश हो रही थी। इसके बाद ये खिलाड़ी उस रेस्तरां के अंदर चले गए।

उन्होंने कहा कि अगर तीसरे टेस्ट मैच से पहले ये टीम इंडिया को अस्थिर करने की कोशिश है तो ये क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की बेहद खराब चाल है। उस अधिकारी ने आगे बात करते हुए कहा कि, सबसे पहले कि उन्हें ट्रेनिंग करने की अनुमति दी गई है और दूसरी बात मुझे नहीं लगता है कि इस बात का कोई प्रतिकूल प्रभाव हो सकता है।

टीम इंडिया की तरफ से जैव-सुरक्षा प्रोटोकॉल का किसी भी तरीके से उल्लंघन नहीं हुआ है। भारतीय टीम के साथ जुड़े सभी लोग इस बात से अच्छी तरह से वाकिफ हैं। दूसरे टेस्ट मैच में मिली हार के बाद ये ऑस्ट्रेलियाई मीडिया द्वारा जानबूझ कर मामले को उछालने की एक कोशिश है।

अगले कुछ दिन टीम इंडिया के लिए काफी अहम है क्योंकि उन्हें तीसरे टेस्ट मैच के लिए सिडनी रवाना होना है। वहीं ये पाचों खिलाड़ी तीसरे टेस्ट मैच के लिए उपलब्ध रहेंगे या नहीं ये 72 घंटों के अंदर पता चल सकता है। टीम इंडिया को तीसरा टेस्ट मैच अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में 7 जनवरी से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलना है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button