राष्ट्रीय

BJP 39वां स्थापना दिवस: मुंबई में आज शाह करेंगे 3 लाख कार्यकर्ताओं को संबोधित

आज भारतीय जनता पार्टी 39वां स्थापना दिवस मना रही है. बीजेपी अपने इस स्थापना दिवस का जश्न जोर-शोर से मना रही है. पार्टी अध्यक्ष अमित शाह मुंबई में आज तीन लाख कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे, तो वहीं शाम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 संसदीय क्षेत्रों के कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद करेंगे.

आज भारतीय जनता पार्टी 39वां स्थापना दिवस मना रही है. बीजेपी अपने इस स्थापना दिवस का जश्न जोर-शोर से मना रही है. पार्टी अध्यक्ष अमित शाह मुंबई में आज तीन लाख कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे, तो वहीं शाम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 संसदीय क्षेत्रों के कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद करेंगे.

पार्टी अध्यक्ष अमित शाह मुंबई में बड़ी रैली को संबोधित करेंगे. इस रैली को बीजेपी की तरफ से मिशन 2019 का बिगुल फूंकना भी बताया जा रहा है. रैली में करीब 3 लाख कार्यकर्ता शामिल हो सकते हैं. इसके लिए 28 ट्रेन, 5000 बसों से कार्यकर्ता देश के कई हिस्सों से मुंबई पहुंच रहे हैं. रैली को संबोधित करने के बाद अमित शाह यहां एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी कर सकते हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार सुबह ट्वीट कर सभी बीजेपी कार्यकर्ताओं को बधाई दी. पीएम मोदी ने इस दौरान एक वीडियो भी ट्वीट किया.

नई दिल्ली और उत्तरी-पूर्वी दिल्ली से क्रमशः मीनाक्षी लेखी और दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष और भोजपुरी फिल्म स्टार मनोज तिवारी सांसद हैं. जबकि उत्तरी मध्य मुंबई से बीजेपी युवा मोर्चा की अध्यक्ष और प्रमोद महाजन की बेटी पूनम महाजन सांसद हैं.

पार्टी के स्थापना दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 संसदीय क्षेत्रों के कार्यकर्ताओं से सीधे संवाद करेंगे. पीएम कार्यकर्ताओं से नमो ऐप के जरिए बात करेंगे. इन 5 संसदीय क्षेत्रों में नई दिल्ली, उत्तरी-पूर्वी दिल्ली, उत्तरी मध्य मुंबई, हमीरपुर (हिमाचल प्रदेश) और सारण (बिहार) की शामिल है.

वहीं, हिमाचल प्रदेश की हमीरपुर सीट से बीजेपी के ही अनुराग ठाकुर, बिहार की सारण लोकसभा सीट से पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी सांसद हैं. प्रधानमंत्री मोदी इन पांचों लोकसभा क्षेत्रों के कार्यकर्ताओं के साथ मोदी ऐप के माध्यम से बातचीत करेंगे.

गौरतलब है कि आपातकाल के दौरान भारतीय जनसंघ और दूसरे राजनीतिक दलों ने महागठबंधन किया और जनता पार्टी का जन्म हुआ था. जनता पार्टी ने तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की नीतियों के खिलाफ चुनाव लड़ा और पार्टी को बड़ी जीत मिली थी.

लेकिन जनता पार्टी में आंतरिक कलह पैदा हो गई और जनता पार्टी की सरकार अपना कार्यकाल भी पूरा नहीं कर सकी. इसके बाद जनसंघ जनता पार्टी से अलग हो गई. 6 अप्रैल 1980 को भारतीय जनता पार्टी के नाम से नई पार्टी का गठन हुआ. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पार्टी के पहले अध्यक्ष बने.

कुछ ऐसे आगे बढ़ा सफर – (आम चुनाव)

1984 चुनाव – 2 सीटें

1989 चुनाव – 85 सीटें

1991 चुनाव – 120 सीटें

1996 चुनाव – 161 सीटें

1998 चुनाव – 182 सीटें

1999 चुनाव – 182 सीटें

2004 चुनाव – 138 सीटें

2009 चुनाव – 116 सीटें

2014 चुनाव – 282 सीटें

Summary
Review Date
Reviewed Item
BJP 39वां स्थापना दिवस: मुंबई में आज शाह करेंगे 3 लाख कार्यकर्ताओं को संबोधित
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.