भाजपा ने 2019 में अपनी मुख्य प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस से ज्यादा उम्मीदवार उतारे

लोकसभा चुनाव के लिए तीन चरणों का चुनाव संपन्न हो चुका

नई दिल्ली: भाजपा 2014 के बाद इस बार देशभर में अपने विस्तार के चलते कांग्रेस से ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ रही है. भाजपा आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में अपने सहयोगियों का साथ छोड़ इस बार सभी सीटों पर अकेले चुनाव लड़ रही है. इसी तरह, कांग्रेस इस बार भाजपा की तुलना में कम सीटों पर चुनाव लड़ रही है क्योंकि उसने 2014 की तुलना में अधिक दलों के साथ गठबंधन किया है.

भाजपा ने 2019 के लोकसभा चुनाव में 437 उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है. इस बार वह सबसे ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ रही है और शायद पहली बार उसने अपनी मुख्य प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस से ज्यादा उम्मीदवार उतारे हैं. भाजपा ने 2014 में 427 सीटों पर चुनाव लड़ा था, जिसमें से 282 सीटों पर उसे जीत मिली थी जबकि कांग्रेस ने 450 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे और उसने 44 सीटें जीती थीं.

कांग्रेस ने 2014 में कर्नाटक में सभी सीटों पर अकेले चुनाव लड़ा था, लेकिन इस बार वह जद (एस) के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ रही है. पार्टी ने नए सहयोगियों के साथ बिहार में अपने गठबंधन का विस्तार किया है.

लोकसभा चुनाव के लिए तीन चरणों का चुनाव संपन्न हो चुका है. चौथे चरण के लिए 29 अप्रैल को वोटिंग होगी. इस चरण में 71 सीटों पर वोट डाले जाएंगे. अब तक गुजरात, केरल, तमिलनाडु जैसे बड़ राज्यों में वोट डाले जा चुके हैं.

Back to top button