भाजपा को उत्तर कर्नाटक के लिए पृथक राज्य की मांग का हक नहीं – सिद्धारमैया

मैसूर: भाजपा के कुछ नेताओं द्वारा उत्तर कर्नाटक के लिए पृथक राज्य की मांग किए जाने की आलोचना करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने रविवार को कहा कि पार्टी को इस तरह की मांग करने का कोई हक नहीं है क्योंकि क्षेत्र के विकास में राजग ने कोई योगदान नहीं दिया है।

सिद्धारमैया ने कहा, ‘‘ नरेंद्र मोदी नीत राजग सरकार का उत्तर कर्नाटक के विकास में योगदान शून्य है। भाजपा के नेता अब पृथक राज्य की मांग कर रहे हैं। यह कितना उचित है?’’ उन्होंने यहां पार्टी की एक बैठक में कहा, ‘‘ पृथक राज्य की कोई जरूरत नहीं है।’’ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने यह भी कहा कि यह मांग ऐसे लोग कर रहे हैं जो एकीकृत कर्नाटक के मायने को नहीं समझते हैं।

सिद्धारैमया ने दावा किया कि उन्होंने मुख्यमंत्री रहते भाजपा की सरकार के दौरान आंवटित कोष की तुलना में क्षेत्र के विकास के लिए अधिक पैसा दिया है। उत्तर कर्नाटक से भाजपा विधायक बी श्रीरामुलु ने दो अगस्त को कुछ संगठनों की ओर बंद के आह्वान को हाल में अपना समर्थन दिया है और क्षेत्र के साथ अन्याय का आरोप लगाते हुए उत्तर कर्नाटक के लिए अलग राज्य की मांग की है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा भी पृथक राज्य की मांग करने वालों की पूर्व में आलोचना कर चुके हैं।

Back to top button