कर्नाटक की कोप्‍पल लोकसभा सीट पर तीसरी जीत हासिल करने बीजेपी की निगाहें

इस बार बीजेपी ने मौजूदा सांसद कराडी संगन्‍ना को अपना उम्‍मीदवार बनाया

कोप्‍पल: कर्नाटक की कोप्‍पल लोकसभा सीट पर अब तक हुए कुल 16 चुनावों में 10 बार कांग्रेस को जीत मिली है. साथ ही इस सीट पर 2 बार भारतीय जनता पार्टी ने भी जीत दर्ज की है. साल 2009 में पहली बार बीजेपी यहां से जीती थी.

लेकिन इस बार फिर बीजेपी इस सीट पर तीसरी जीत हासिल करने के लिए निगाहें लगाए हुए हैं. जिसके लिए इस बार पार्टी ने मौजूदा सांसद कराडी संगन्‍ना को अपना उम्‍मीदवार बनाया है. उनका मुकाबला कांग्रेस के बसवराज हितनल से है. हितनल को संगन्‍ना ने 2014 में हराया था. इस बार वही मुकाबला देखने को मिलेगा.

2014 में कांग्रेस के बसावराज हिंटल को 32,414 वोटों से हार का सामना करना पड़ा था. कोप्पल लोकसभा सीट हैदराबाद कर्नाटक इलाके में है. 2014 के लोकसभा चुनाव में इस सीट से BJP के कराडी संगन्ना अमरप्पा ने 4 लाख 86 हजार 383 वोट हासिल किये थे और 32 हजार 414 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की थी.

63 साल के कराडी संगन्ना की लोकसभा में उपस्थिति 81 फीसदी रही है. कोप्पल की आबादी 21,87,977 है. इसमें 82.25 प्रतिशत लोग गावों और 17.75 फीसदी शहरों में रहते हैं. यहां एससी समुदाय 19 फीसदी और एसटी की आबादी 13 प्रतिशत है. कोप्पल सीट पर 15,35,105 मतदाता पंजीकृत हैं. 2014 में यहां 10,06,508 लोगों ने अपना वोट डाला था.

कोप्पल संसदीय क्षेत्र में आठ विधानसभाए सीटें हैं, जिसमें दो सीटें एसटी और एक एससी कैंडिडेट के लिए सुरक्षित है. 12 आम चुनावों में कांग्रेस ने नौ बार इस सीट पर कब्जा जमाया.

Back to top button