छत्तीसगढ़

सत्ता हेतु पुनः राम की शरण में भाजपा – जोगी

रायपुर: जकांछ प्रमुख एवं पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने भाजपा की स्वार्थ सिद्धी की भावना को उजागर करते हुए कहा है कि भाजपा पुनः राम-नाम की माला जपते नजर आ रही है। भाजपा का इतिहास सिद्ध करता है कि उसे ऐन चुनाव के समय भगवान श्रीराम एवं राम मंदिर निर्माण का राग अलापते देश की जनता देखते व सुनते आ रही है।

देश की जागरूक जनता यह भली-भांति समझ चुकी है कि चुनाव सम्पन्न होने के बाद न तो भाजपा को श्रीराम याद रहते है और नही मंदिर निर्माण। भाजपा सत्ता में रहते हुए भगवान श्रीराम को पुनः वनवास पर भेज दिया करती है और उनसे किये वादो को भुला दिया जाता है।

अब लोकसभा चुनाव में सत्ता की चाहत में श्रीराम को स्मरण करते हुए भाजपा पुनः मंदिर मुद्दे पर लौटती नजर आ रही है, और देश की जनता को दिग्भ्रमित करने के प्रयास में जुट गयी है।जोगी ने कहा है कि भाजपा ने तो केवल देश की श्रद्धालु जनता की भावनाओं का सदैव दोहन ही किया है और मंदिर मुद्दे को इस बार भी चुनाव में भुनाना चाहती है।

नरेन्द्र मोदी एवं अमित शाह को विगत 5 वर्षो के कार्यकाल में मंदिर निर्माण का ख्याल क्यो नही आया ? वह इसलिए कि इन 5 वर्षो में भाजपा सत्ता सुख भोगने में मस्त थी और उन्हे कुर्सी के लगाव ने इस ओर सोचने का अवसर ही नही मिला। भाजपा घूम फिरकर राम-नाम का सहारा लेकर बैतरणी पार करना चाहती है जो भाजपा की स्वार्थ परख सोच का ज्वलंत उदाहरण है।

Tags
Back to top button