बीजेपी को अब अपने दोस्तों की याद आ रही है, लेकिन हमारा रुख नहीं बदलेगा: शिवसेना

मुंबई: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की ओर से दिए गए दोस्ती के प्रस्ताव के बावजूद भी शिवसेना ने बहुत ही ठंडी प्रतिक्रिया दी है। पार्टी का कहना है कि उसके रुख में कोई बदलाव नहीं आएगा और पार्टी चुनावों में अकेले ही उतरेगी। बता दें कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने छह अप्रैल को पार्टी के स्थापना दिवस पर कहा था कि पार्टी को इस बात की उम्मीद है कि उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाली शिवसेना एनडीए में बने रहेगी। शाह ने कहा था, वे (शिवसेना) अभी हमारे साथ सरकार में हैं।

यह हमारी प्रबल इच्छा है कि वह हमारे साथ बने रहें। माना जा रहा था कि बीजेपी के प्रस्ताव पर शिवसेना अपने रुख में कोई नरम रुख दिखाए लेकिन पार्टी ने इसके उलट बीजेपी पर निशाना साधा है। शिवसेना के वरिष्ठ नेता सुभाष देसाई ने कहा है कि बीजेपी ने अचानक अपना सुर बदल लिया है और अब वह एनडीए में अपने सहयोगियों के बारे में बातचीत कर रही है। शाह ने संवाददाता सम्मेलन में कहा था, 2019 में भी हम एनडीए की सरकार बनायेंगे और बीजेपी (अपने दम पर लोकसभा चुनावों में) बहुमत के साथ जीत हासिल करेगी।

1
Back to top button