BJP विधायक भीमा मंंडावी ने हमले से पहले ली थी किरंदुल में बैठक

दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ के अतिसंवेदनशील नक्सल प्रभावित जिले दंतेवाड़ा में मंगलवार की शाम नक्सलियों का शिकार होने से पहले भारतीय जनता पार्टी के विधायक भीमा मंडावी ने किरंदुल क्षेत्र में कार्यकर्ताओं की बैठक ली थी।

विधायक भीमा मंडावी कुआकोण्डा ब्लॉक के श्यामगिरी गांव में चुनावी सभा को संबोधित करने के बाद वापस नकुलनार लौट रहे थे तभी वे नक्सली हमले का शिकार हो गए जहां उनके साथ चार अन्य लोगों की जान चली गई। उनका काफिला नक्सलियों द्वारा लगाए गए आईईडी की चपेट में आ गया।

नक्सलियों ने सड़क पर लैण्डमाइन्स लगाया था। उसके ऊपर से उनका बुलेट प्रूफ वाहन गुजरा और विस्फोट हो गया। इसमें वाहन पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। घटना शाम करीब 4 बजे की बताई जा रही है।

श्यामगिरी में आज वार्षिक मड़ई मेले का भी आयोजन किया गया था। इसी मेले के दौरान आयोजित जनसभा को संबोधित करने वे जिला मुख्यालय से करीब 70 किलोमीटर दूर स्थित इस गांव में गए थे। सभा स्थल से निकलने के बाद करीब डेढ़ किलोमीटर दूर काफिला पहुंचा था और यह हमला हो गया।

Back to top button