भाजपा विधायक ओम प्रकाश शर्मा को चुनाव आयोग द्वारा कारण बताओ नोटिस जारी

निर्वाचन आयोग (ईसी) ने उन्हें तस्वीर हटाने का निर्देश दिया

नई दिल्ली: भाजपा विधायक ओम प्रकाश शर्मा को चुनाव आयोग द्वारा कारण बताओ नोटिस जारी हो गया है। दरअसल भाजपा विधायक ओम प्रकाश शर्मा के ऊपर पीएम मोदी और विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान के साथ अपनी दो तस्वीरें सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर पोस्ट करने का आरोप है।

निर्वाचन आयोग (ईसी) ने उन्हें तस्वीर हटाने का निर्देश दिया है और बृहस्पतिवार तक इस बारे में उन्हें जवाब देने को कहा है। लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से शुरू होने वाले हैं और यह 19 मई तक चलेगा। दिल्ली में मतदान 12 मई को होगा।

सोशल मीडिया पर पोस्टर वाली तस्वीर एक मार्च को पोस्ट की गयी थी। तस्वीर में मोदी, भाजपा प्रमुख अमित शाह, वायुसेना अधिकारी और शर्मा नजर आ रहे हैं। शर्मा दिल्ली विधानसभा में विश्वास नगर सीट से प्रतिनिधित्व करते हैं। पोस्टर में लिखा है, ‘‘झुक गया है पाकिस्तान। लौट आया देश का वीर जवान। इतने कम समय में अभिनंदन की वापसी मोदीजी की बड़ी कूटनीतिक जीत है।

शाहदरा के जिलाधीश के. एम. महेश ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘फेसबुक पर अभिनंदन की तस्वीर वाले पोस्टर को पोस्ट करने के कारण हमने 11 मार्च को शर्मा को कारण बताओ नोटिस जारी किया। महेश ने कहा, ‘‘उनसे (शर्मा से) बृहस्पतिवार सुबह 11 बजे तक जवाब मांगा गया है। यह आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है और इस बारे में उपयुक्त कार्रवाई की जायेगी। महेश जिला निर्वाचन अधिकारी भी हैं।

सभी राजनीतिक दलों को भेजे दिसंबर 2013 के अपने पत्र का उल्लेख करते हुए आयोग ने हाल में उनसे चुनाव प्रचार के दौरान सैन्य बलों के जिक्र से बचने को कहा था। आयोग का यह निर्देश वर्धमान के साथ एक दल के कुछ नेताओं की तस्वीरें सामने आने की पृष्ठभूमि में आया है।

Back to top button