बीजेपी विधायक ने दिया इस्तीफा

मॉब लिंचिंग पर दिया था विवादित बयान

अपने बयानों को लेकर चर्चा रहने वाले हैदराबाद से बीजेपी विधायक टी. राजा सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने गौरक्षा के लिए अपने पद से इस्तीफा दिया है। टी. राजा ने कहा कि अब वे अपना पूरा समय गाय की सेवा और गौरक्षा के लिए समर्पित करेंगे। विधायक ने बताया कि वे गौरक्षा अभियान की शुरूआत करेंगे। टी. राजा इससे पहले कई बार अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रह चुके हैं।

गोशामहल से बीजेपी विधायक टी. राजा सिंह ने कहा कि उन्होंने अपने गोरक्षा अभियान को किसी भी भी अपनी पार्टी से जोड़ा है। वह हमेशा गौसेवा करते आए हैं। विधायक ने बताया कि उन्होंने अपना इस्तीफा पार्टी अध्यक्ष डॉ. के. लक्ष्मण को चार दिन पहले ही दे दिया था। राजा ने कहा कि यह कदम उन्होंने देश की बढ़ती गायों की हत्या को देखते हुए लिया है। उन्होंने कहा कि देश में गौहत्या बढ़ती जा रही है और वे स्वतंत्र रूप से गौरक्षा का कार्य करेंगे।

जानकारी के अनुसार, विधायक के इस्तीफे को विधानसभा स्पीकर को नहीं भेजा गया है। उनके इस्तीफे पर विचार किया जा रहा है। बता दें कि टी राजा अपने बयानों को लेकर हमेशा चर्चा में रहे हैं। उन्होंने मॉब लिंचिंग की घटनाओं को लेकर भीड़ का समर्थन किया था। उन्होंने कहा था कि जो भी गाय को मारेगा उसे ऊना दलितों की तरह ही पीटा जाएगा।

टी राजा ने कहा कि हम ऐसे लोगों को अपने हाथों से सबके सिखाएंगे। उन्होंने कहा कि वे गौरक्षा के लिए खुद कार्य करते हैं। विधायक ने दलितों के अलावा समाज के हर वर्ग को धमकी दी थी कि जो भी गो-हत्या करेगा। उसे ऐसे ही सबक सिखाया जाएगा। राजा ने गोरक्षकों से कहा कि डरिए मत, धर्म कार्य, देश कार्य, गो कार्य में कठिनाई आती है।

असम में एनआरसी सूची जारी होने पर विधायक टी राजा सिंह ने कहा था कि अगर अवैध बांग्लादेशी प्रवासी और रोहिंग्या समुदाय के लोग शराफत से अपने देश नहीं लौटते हैं तो उन्हें गोली मार देनी चाहिए। उन्हें उनकी भाषा में समझाने की जरूरत है तभी भारतीय सुरक्षित रह सकेंगे। उन्होंने कहा कि इस तरह अवैध प्रवासियों को कुछ अन्य देशों में भी गोली मार दी गई और बाहर खदेड़ा गया।भड़काऊ बयानों की वजह से विधायक पर पुलिस में मामला भी दर्ज हो चुका है।

Tags
Back to top button