छत्तीसगढ़

कांग्रेस की पदयात्राओं से भाजपा घबराई और बौखलाई

रायपुर: लोकसुराज के सरकारी अभियान के दौरान भाजपा द्वारा पदयात्रा का कार्यक्रम घोषित किये जाने को भाजपा की घबराहट और बौखलाहट निरूपित करते हुये कांग्रेस ने कहा है कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल की पदयात्राओं राज्य में कांग्रेस के पक्ष में जबर्दस्त माहौल बना है जिससे भाजपा का शीर्ष नेतृत्व घबरा गया है और आनन-फानन में बजट सत्र के अंतिम दिन सौदान सिंह और रमन सिंह को भाजपा सांसदों-विधायकों की बैठक बुलाकर पदयात्राओं का कार्यक्रम कांग्रेस की नकल करते हुये जारी करना पड़ा।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ. चरणदास महंत द्वारा निकाली गयी हसदेव जनयात्रा को मिले जनसमर्थन एवं 24 फरवरी को देवरी-केरा में समापन कार्यक्रम में हजारों ग्रामीणों की भागीदारी से भाजपा के सत्ता के गलियारों में खतरे की घंटी बजने लगी है। लोकसुराज के शासकीय अभियान का निर्णय भाजपा कार्यालय से घोषित किये जाने पर कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति व्यक्त की है। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि लोकसुराज सरकार का अभियान है और उसी दौरान पदयात्रायें भाजपा का राजनैतिक कार्यक्रम है। सरकार और सत्ताधारी दल की सीमारेखा छत्तीसगढ़ में समाप्त हो गयी है। जो लोकतंत्र के लिये बेहद खतरनाक है।

प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल जी की पदयात्रायें
1. महतारी न्याय यात्रा :-
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के द्वारा पेंडारी में आयोजित नसबंदी शिविर के मृत के परिजनो को उचित न्याय दिलाते हेतु पीड़ित परिवारो के एक सदस्य को सरकारी नौकरी एवं 10 लाख रूपये मुआवजा राशि दिये जाने तथा मुख्यमंत्री की इस्तीफे एवं स्वास्थ्य मंत्री की बर्खास्तगी की मांग को लेकर पेंडारी (बिलासपुर) से राजधानी रायपुर तक 125 कि.मी. की 6 दिवसीय महतारी न्याय यात्रा (पदयात्रा) दिनांक 22 नवबंर 2014 को शुभारंभ किया। विधानसभा क्षेत्र – तखतपुर, बिलासपुर शहर, बिल्हा, मुंगेली, घरसीवा, (रायपुर शहर, पश्चिम, उत्तर, दक्षिण क्षेत्र) का दौरा किये।

2. किसान मजदूर न्याय यात्रा (11 से 16 मार्च 2015) :-

भारतीय जनता पार्टी की सरकार द्वारा प्रदेश की की आम जनता के साथ किये जा रहे वादाखिलाफी, लूट एवं भ्रष्टाचार से बदहाल राज्य के किसान व गरीब मजदूर भईयों के हक लिये छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा दिनांक 11 मार्च 2015 को बलौदाबाजार से सेमरिया (राजधानी रायपुर) तक 72 कि.मी की 6 दिवसीय “किसान मजदूर न्याय यात्रा ”प्रारंभ किया गया। विधानसभा क्षेत्र – बलौदाबाजार, धरसीवां, आंरग, कसडोल, रायपुर के चार विधानसभा क्षेत्रों में दौरा किया।

3. किसान बचाओ आंदोलन पदयात्रा (15 एवं 16 जून 2015) :-

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष माननीय श्री राहुल गांधी ने दिनांक 15 जून 2015 को कोरबा जिले के मदनपुर एवं कुदमुरा में प्रदेश के किसान भाईयों के भू-अधिग्रहण एवं हाथियों से प्रभावित ग्रामीण/किसानों का चौपाल लगाकर समास्यायें सुनी तथा दिनांक 16 जून 2015 को जांजगीर-चांपा जिले के डभरा वि.खं. के ग्राम-साराडीह से डभरा तक 12 कि.मी. की किसान-बचाओ पदयात्रा किया गया। विधानसभा क्षेत्र – पामगढ़, जैजेपुर, चांपा, चंद्रपुर, सलखन इन विधानसभा क्षेत्रों में दौरा किये।

4. न्याय पदयात्रा (12 नवंबर 2016) :-

एन.एम.डी.सी. आयरन एवं स्टील प्लांट में निजी क्षेत्र के विनिवेश, प्लांट की विभिन्न समस्याओं व प्लांट से प्रभावित किसान/मजदूर एवं आमजनता की हक के लिये 12 नवंबर 2016 को प्लांट के मुख्यद्वार, नगनार से जगदलपुर (लगभग 16 कि.मी) का न्याय पदयात्रा किया गया। विधानसभा क्षेत्र – (जगदलपुर शहर, ग्रामीण), चित्रकुट, इन विधानसभा क्षेत्रों में दौरा किये।

5. जन-वेदना यात्रा (10 एवं 13 फरवरी) :-

केन्द्र व राज्य की भाजपा सरकार ने जन/किसान विरोधी नीति, नोटबंदी से फैली अव्यवस्था, बढ़ती महंगाई, बस्तर संभाग में आदिवासियों के साथ हो रही अत्याचार, फर्जी नक्सली मुठभेड़, एनएमडीसी स्टील प्लांट के निजीकरण सहित विभिन्न समस्याओं को लेकर 10 से 13 फरवरी 2017 तक 4 दिवसीय जनवेदना पदयात्रा जगदलपुर से कोण्डागांव (लगभग 72 कि.मी.) करते हुये 13 फरवरी 2017 को विशाल आमसभा का आयोजन कर पदयात्रा का समापन किया गया। विधानसभा क्षेत्र – (जगदलपुर शहर, ग्रामीण), चित्रकुट, बस्तर, कोण्डागांव, नारायणपुर, इन विधानसभा क्षेत्रों में दौरा किये।

6. इंदिरा जन-जनाधिकार पदयात्रा (13 से 18 नवंबर तक) :-

राजीव गांधी पंचायती राज संगठन छत्तीसगढ़ के संयोजन में पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी जी के जनशताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य पर 90 कि.मी. की पदयात्रा ‘‘इंदिरा जन अधिकार पदयात्रा’’ का आयोजन डांगरगढ़ के मां बम्लेश्वर मंदिर में पूजन कर 13 नवंबर 2017 को प्रारंभ हुआ जिसका समापन समारोह जन सभा का समापन 18 नवंबर 2017 को भिलाई सुपेला में किया जायेगा। विधानसभा क्षेत्र – डोगरगढ़, डोगरगांव, राजनांदगांव, (दुर्ग -ग्रामीण, शहर), भिलाई, वैशाली नगर, पाटन इन विधानसभा क्षेत्रों में दौरा किये।

7. किसान जन-अधिकार पदयात्रा (12 से 17 दिसंबर 2017) :-

राज्य भाजपा सकरा के किसान विराधी निर्णय/नीतियों के विरोध छ.ग. प्रदेश कांग्रेस कमेटी के तत्वाधान में दिनांक 12 दिसंबर 2017 से शिवरीनारायण से प्रारंभ हुआ, जिसका समापन 17 दिसंबर 2017 को प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष शहीद नंदकुमार पटेल जी के गृहग्राम-नंदेली, जिला-रायगढ़ में निर्धारित था, किंतु आखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के नव-निर्वाचित के अध्यक्ष माननीय श्री राहुल गांधी जी के शपथ-ग्रहण समारोह में शामिल होने हेतु नई दिल्ली प्रवास के कारण दिनांक 15 दिसंबर 2017 को पदयात्रा स्थगित कर दिया गया है, शेष निर्धारित पदयात्रा विधानसभा सत्र पश्चात पुनः प्रारंभ किया जायेगा।

8. जन-अधिकार पदया़त्रा (18 से 22 जनवरी 2018) :-

जन-अधिकार पदयात्रा का प्रारंभ 18 जनवरी 2018 घरघोड़ा से हुआ और समापन 22 जनवरी 2018 को नंदेली में हुआ।

Summary
Review Date
Reviewed Item
कांग्रेस की पदयात्राओं से भाजपा घबराई और बौखलाई
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.