भाजपा ने कहा- भूपेश का यह सत्याग्रह नहीं ‘सत्ताग्रह’ है

-अब पीसीसी का अर्थ हो गया ‘प्रदेश क्रिमिनल कांग्रेस’

रायपुर।

छत्तीसगढ़ भाजपा ने कहा है कि हार की बौखलाहट में पिछले कुछ दिनों से कांग्रेस पार्टी ख़ास कर भूपेश बघेल जिस तरह प्रदेश का माहौल खराब कर नौटंकी कर रहे हैं, वह छत्तीसगढ़ के लिए शर्मनाक है.प्रदेश की जनता हमेशा से अपराधियों को बाहर का रास्ता दिखाया है, वह भूपेश जैसे घृणित अपराध के आरोपियों को भी बर्दाश्त नहीं करेगी.

मानसिक दीवालियेपन की पराकाष्ठा है एक घिनौने अपराध को सत्याग्रह का नाम देना. वास्तव में सत्याग्रह कभी किसी अपराधी को बचाने का उपक्रम नहीं हो सकता. भूपेश और कांग्रेस का यह सत्ताग्रह है, ऐसे दुराग्रह का देश भर में जनता ने मूंहतोड़ जवाब दिया है. कांग्रेस का रहा-सहा जनाधार, बची-खुची साख भी अब नष्ट होने के कगार पर है. इस विधानसभा चुनाव में प्रदेश की जनता, कांग्रेस का सफाया करेगी, यह तय है.

कांग्रेस पूरी तरह अप्रासंगिक हो गयी थी.अपना अस्तित्व बचाने यह कांग्रेस की नौटंकी है, अगर सीडी मामले में वकील नहीं ले कर भूपेश यह कह रहे हैं कि वे चूंकि निरपराध हैं इसलिए वकील नहीं रखेंगे, तो क्या उन्होंने यह मान लिया है कि ज़मीन कब्ज़ा संबंधित मामले समेत जो भी अन्य आपराधिक मामले कांग्रेस अध्यक्ष पर दर्ज हैं,उन सभी में वे अपराधी हैं? अगर ऐसा कबूल लिया है तब क्या ऐसे अपराधी को सार्वजनिक जीवन में रहना चाहिए?

ज़मानत लेने का अर्थ अगर अपराधी होना है तो क्या कांग्रेस यह कहना चाहती है कि जमानत पर बाहर उनके पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और वर्तमान अध्यक्ष राहुल गांधी अपराधी हैं?

कांग्रेस के प्रभारी पुनिया का बयान काफी आपत्तिजनक है. उन्होंने कहा कि वे ज़मानत की भीख नहीं लेंगे. तो क्या ऐसा कह कर कांग्रेस प्रभारी ने अपने ही राष्ट्रीय नेतृत्व को भिखारी कहा है?

सीबीआई की जांच में बड़ी राशि का लेनदेन होना सामने आया है. हम भूपेश से यह जानना चाहते हैं कि यह रकम किसकी है? इतना पैसा किस माध्यम से एकत्र किये गए?

हम सब जानते हैं कि कांग्रेस ने इस मामले में भी खुद ही सीबीआई जांच की मांग की थी, और आज भी जमानत का आवेदन नहीं देकर बघेल ने यह साबित किया है कि वे इस मुद्दे से चुनावी लाभ लेना चाहते हैं, यह कभी संभव नहीं होगा. बघेल ने समूचे छत्तीसगढ़ का सर शर्म से झुका दिया है. बघेल पर जिस तरह के घृणित कृत्य के आरोप हैं, ऐसा अमूमन आदतन अपराधी ही किया करते हैं.

Back to top button