दिल्ली में 2 फरवरी को दंगे करवाना चाहती है BJP : संजय सिंह

नई दिल्ली: दिल्ली के शाहीन बाग में शनिवार को एक बार फिर से फायरिंग होने के बाद आम आदमी पार्टी (AAP) के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह (Sanjay Singh) का बयान आया है.

संजय सिंह ने इस बयान में भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि चुनाव टालने के लिए बीजेपी दिल्ली में 2 फरवरी को बड़ा बवाल कराने की तैयारी में है.

दिल्ली का विधानसभा चुनाव हाथ से निकलते हुए देखकर बीजेपी ने दिल्ली में दंगा करवाने तक की तैयारी कर ली है.

संजय सिंह ने यह प्रेस कॉन्फ्रेंस आम आदमी पार्टी के मुख्यालय में की. मीडिया से बातचीत करते हुए आप नेता ने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा फरवरी को बीजेपी दिल्ली में बड़ा बवाल कराने की तैयारी में है.

संजय सिंह ने कहा कि इस बवाल और दंगा होने से पहले ही चुनाव आयोग (EC) को सतर्क हो जाना चाहिए क्योंकि गृहमंत्री अमित शाह तो खुद ही हिंसा फैलाने में शामिल हैं, तो उनसे तो आप उम्मीद कर नहीं सकते, तो अगर चुनाव आयोग निष्पक्षता के साथ दिल्ली में चुनाव कराना चाहता है तो उसको इस मामले का संज्ञान लेना चाहिए.

संजय सिंह ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि, कल मैंने चेतावनी दी थी पुलिस और चुनाव आयोग को कि दिल्ली में बीजेपी और अमित शाह गहरी साजिश कर रहे हैं चुनाव को टालने के लिए तमंचा स्कूल से निकले लोग अपराध का अड्डा बना रहे हैं.

हमने कल चुनाव आयोग से समय मांगा है, लेकिन अभी तक हमें समय नहीं दिया गया है. दिल्ली में चुनाव चल रहा है और आचार संहिता लागू है और कोई भी कहीं भी तमंचा बंदूक चला रहा है. अमित शाह के इशारे पर 2 मंत्रियों ने भड़काऊ बयान दिया यूपी को रोगी बनाने वाले योगी यहां आकर मनोरोगी बने हुए हैं.

योगी ने कहा कि केजरीवाल के तार पाकिस्तान से जुड़े हुए हैं. ये कैसा भाषण है केजरीवाल की बीमारी का मज़ाक बना रहे हैं. योगी आदित्यनाथ चिन्मयानंद के चेले हैं. सुबह शाहीन बाग पर रविशंकर प्रसाद का बयान आया. हमने उसका स्वागत किया लेकिन शाम तक कुछ नहीं हुआ. क्या रविशंकर प्रसाद ने अपने स्तर पर ये बयान दिया क्या बाद में रविशंकर प्रसाद को रोका गया किसने रोका? मैं जानता हूं वे अमित शाह ही हैं.

मैं अपने बयान पर कायम हूं. कि 2 फरवरी को बीजेपी दिल्ली में हिंसा कराना चाहती है हो सकती है हिंसा करने वाला के दिन पहले ही आ गया हो. शाहीनबाग के लोग अपना प्रोटेस्ट वापस लेने पर विचार करना चाहिए ताकि किसी को हिंसा फैलाने का मौका न मिले.

Tags
Back to top button