छ्त्तीसगढ़ भूपेश सरकार के वादा खिलाफी के विरोध में भाजपा का विधानसभा स्तरीय किसान आंदोलन

अरविन्द शर्मा:

कटघोरा: 13 जनवरी को स्थानीय शहीद वीरनारायण चौक में रैन बसेरा के पास, भाजपाइयों ने कटघोरा विधानसभा स्तरीय एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किये,,जहां भूपेश सरकार के वादाखिलाफी को लेकर जमकर हल्ला बोला गया ,,कटघोरा नायब तहसीलदार को ज्ञापन सौपा गया, उक्ताशय की जानकारी देते हुए भाजपा मंडल के मीडिया प्रभारी नवीन गोयल ने आगे बताया कि कटघोरा विधानसभा से जुड़े पांचों मंडलों के सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ता गण भारी संख्या में मौजूद थे । छत्तीसगढ़ के भूपेश बघेल सरकार के वादा खिलाफी के विरोध में किसानों के विभिन्न मांगों को लेकर आज भारतीय जनता पार्टी के बैनर तले कटघोरा के पूर्व विधायक एवं संसदीय सचिव लखनलाल देवांगन, पूर्व जिलाध्यक्ष राजकुमार अग्रवाल खाद्य आयोग के पूर्व अध्यक्ष ज्योतिनंद दुबे , मनोज शर्मा नगर पालिका कटघोरा की पूर्व अध्यक्ष ललिता डिक्सेना, मण्डल अध्यक्ष कटघोरा धन्नू प्रसाद दुबे , अपने जनप्रतिनिधियों एवं कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर धरना प्रदर्शन किया. आज के धरना प्रदर्शन में कटघोरा विधानसभा के पांच मंडल के अध्यक्ष उपस्थित रहे. सभी जनप्रतिनिधियों एवं मंडल अध्यक्षों ने इस धरना प्रदर्शन पर अपने अपने विचार रखे.जिसमे सभी ने अपने प्रभावी उद्बोधन में भुपेश सरकार को जमकर कोसा और भूपेश सरकार को उनके चुनाव के पूर्व घोषणा पत्र में किये सभी 36 वायदे याद कराए जो उन्होनें चुनाव जीतने के पूर्व जनता से किये थे ,जो कि दो साल पूरा होने के बाद भी पूरा नही हुआ ।

लखनलाल देवांगन ने बताया कि झूठ का सहारा लेकर छत्तीसगढ़ में सरकार बनाने वाली कांग्रेस पार्टी के भूपेश बघेल सरकार द्वारा लगातार किसानों को परेशान करने व किसान विरोधी रवैए से आज छत्तीसगढ़ के किसान अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहा है, वर्तमान में धान बेचने किसान दर – दर की ठोकरें खा रहे हैं उन्हें बोरे नहीं मिल रहे हैं । किसान दुकानों से 35-40 रूपए में बोरे खरीद रहे हैं, जिसका राज्य सरकार से मात्र 15 रूपए मिल रहा है उसके बावजूद भी बोरे की कालाबाजारी हो रही है। साथ ही सुतली नहीं मिलने से किसानों को महंगी दामों में सुतली खरीदना पड़ रहा है, जिसका शासन से एक रुपया भी नहीं मिलने वाला है। इस तरह राज्य सरकार किसानों को लूटने में लगी है और अपने आप को किसान हितैसी बताती है। इस तरह किसान भूपेश बघेल सरकार से अत्यंत परेशान हो रहे हैं।
इन्हीं सब किसानों की मांगों, जैसे पर्याप्त मात्रा में समय पर बोरा उपलब्ध कराए,2500/रुपए प्रति क्विंटल धान का कीमत प्रदान करें, दो साल का बकाया बोनस का भुगतान करें, किसानों का पूरा धान खरीदा जाय, काटे गए रकबा को जोड़ा जाए, आदि को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने पूरे छत्तीसगढ़ में एक साथ आज विशाल धरना करने का निर्णय लिया गया था जिसमें राज्य के किसानों को बड़ी संख्या में उपस्थित होकर अपनी आवाज बुलंद करने का आह्वान किया गया था ।

मंडल अध्यक्ष धन्नू प्रसाद दुबे ने अपने सारगर्भित उद्बोधन में बताया कि भारत का 80 प्रतिशत किसान गावों में रहता है भारत हमारा राम राज्य है और राम राज्य में हमारे अन्नदाता के साथ छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार वादा खिलाफी कर किसानों को ठगा है.छत्तीसगढ़ के किसान एक साथ भाजपा के धरना प्रदर्शन में आये हैं और अपनी आवाज बुलंद कर राज्य के भूपेश बघेल सरकार को उनका वादा याद दिलाकर गहरी नींद से जगाया , कटघोरा विधानसभा के समस्त किसान एवं भाजपा के जनप्रतिनिधि इस विशाल धरना प्रदर्शन में शामिल होकर धरना को सफल बनाये, हम भी किसानों की मांगों को लेकर भूपेश बघेल सरकार के खिलाफ हमेशा आवाज उठाते रहेंगे, जब तक राज्य सरकार किसानों की मांगों को पूरा नहीं करेंगे, शांत बैठने वाले नहीं हैं।

तत्पश्चात कटघोरा नगर पालिका के पूर्व उपाध्यक्ष पवन अग्रवाल ने अपने ओजस्वी व प्रभावी उद्बोधन में भूपेश सरकार की कथनी और करनी को लेकर जमकर बखिया उधेड़ी ,,जिसमे उन्होंने कहा कि कांग्रेस को आखिर गंगाजल हाथ मे लेकर झूठी कसम क्यो खानी पड़ी ,इसके पीछे वजह ये है कि छत्तीसगढ़ के भोली भाली जनता को आसानी से बरगला कर सरकार बना ले ,,दो साल पूरे होने के बाद भी जब भूपेश सरकार चुनाव के पूर्व अपने घोषणा पत्र में किये गए 36 वायदों को पूरा करने में पूरी तरह से विफल रही है और मुख्य वायदों जिसमे पूर्ण शराबबंदी ,,बेरोजगारी भत्ता ,बिजली बिल हाफ ,किसानों का कर्जा माफ आदि प्रमुख मांगे पूरी भी नही कर पाई है जिसमे पूर्ण शराबबंदी लागू करने को लेकर अग्रवाल ने महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओ से आह्वान भी किया है कि चाहे कुछ भी करना पड़े पूर्ण शराबबंदी लागू कराने के लिए भूपेश सरकार को विवश कर देंगे । इनके अलावा अन्य वक्ताओं ने भी अपनी अपनी बात रखी ।

आज कटघोरा में आयोजित किसान आंदोलन में भारतीय जनता पार्टी के पूर्व कटघोरा विधायक एवं संसदीय सचिव छ्त्तीसगढ़ शासन व भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष लखनलाल देवांगन, खाद्य आयोग के पूर्व अध्यक्ष ज्योतिनंद दुबे, राजकुमार अग्रवाल, कटघोरा नगर पालिका परिषद की पूर्व अध्यक्ष ललिता डिक्सेना, पूर्व उपाध्यक्ष पवन अग्रवाल,मण्डल अध्यक्ष धन्नू प्रसाद अध्यक्ष, पर्व मण्डल अध्यक्ष संजय शर्मा, जिला महामंत्री ,सतोष देवांगन, राजेन्द्र राजपूत , नरेश टंडन ,दीपका मण्डल अध्यक्ष सूर्यप्रकाश शर्मा, भिलाई बाजार मण्डल अध्यक्ष विनोद यादव, हरदीबाजार मंडल अध्यक्ष हरीश थारवानी बांकी मोंगरा मंडल अध्यक्ष भागवत विश्वकर्मा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष मीना शर्मा,प्रदेश मंत्री राजेश यादव, पार्षद गणों में शरद गोयल, शैल आर्मो ,उपाध्यक्ष बजरंग पटेल,प्रदीप पांडेय ,सतीश झा ,अश्वनी चौबे ,उमाभारती सराफ , बैशाखू यादव नवीन गोयल, अजय धनोदिया, अजय गर्ग, अभिषेक गर्ग,राजेन्द्र टंडन, आत्मा राम पटेल ,अनुराग दुहलानी समजीत सिंग , दीपक जायसवाल हीरानंद पंजवानी , करुणा शंकर देवांगन जगदीश देवांगन उत्तम रंधावा के साथ ही सभी ज्येष्ठ व श्रेष्ठ पदाधिकारी व कार्यकर्ता एवं बड़ी संख्या महिला कार्यकर्ता एवं किसान साथी उपस्थित रहे.कार्यक्रम का सफल व प्रभावी संचालन मंडल महामंत्री राजेन्द्र टंडन ने किया ।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button