राष्ट्रीय

बीजेपी की चुनावी तैयारियां चौथे गियर में, नवंबर में दूसरी बार बंगाल आ सकते हैं अमित शाह

बैठक में बीजेपी के महासचिव (संगठन) बीएल संतोष (BL Santosh) खुद उपस्थित थे.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) नवंबर महीने की शुरुआत में पांच और छह को दो दिवसीय बंगाल दौरे (Bengal Tour) पर आए थे. इस दौरान उन्होंने बंगाल से ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की सरकार को उखाड़ फेंकने और बंगाल में दो तिहाई बहुमत से बीजेपी (BJP) की सरकार बनाने का दावा किया था. एक बार फिर अमित शाह नवंबर महीने के अंत में बंगाल आ सकते हैं.

बीजेपी के वरिष्ठ नेता के अनुसार अमित शाह 30 नवंबर को फिर से बंगाल आ सकते हैं. इसके साथ ही विधानसभा चुनाव (Assembly Election) के मद्देनजर बंगाल में केंद्रीय मंत्रियों और बीजेपी के आला नेताओं का जमावड़ा लगने की भी संभावना है. मंगलवार को चुनाव तैयारियों को लेकर बीजेपी के हेस्टिंग्स कार्यालय में बैठक हुई.

बैठक में बीजेपी के महासचिव (संगठन) बीएल संतोष (BL Santosh) खुद उपस्थित थे. उनके साथ पार्टी महासचिव व केंद्रीय प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijyavargiya), राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय (Mukul Roy), संयुक्त महासचिव (संगठन) शिवप्रकाश (Shivpraksh), बंगाल के सह प्रभारी अरविंद मेनन (Arvind Menon) व अमित मालवीय (Amit Malviya)भी उपस्थित थे. केंद्रीय नेतृत्व के अतिरिक्त प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष (Dilip Ghosh), पूर्व राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा ( Rahul Sinha) व केंद्रीय राज्य मंत्री देवश्री चौधरी (Debsri Chowdhury) भी उपस्थित थे.

बंगाल में नजर आएंगे बीजेपी के बड़े चेहरे

बैठक के बाद कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि पार्टी ने चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी हैं. चुनावी गतिविधियां शुरू हो गई हैं तो बैठक भी होगी और नेताओं का दौरा भी. संगठन को लेकर बातचीत भी होगी. केंद्रीय मंत्री भी रहेंगे. राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda), केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) भी आएंगे.

सूत्रों का कहना है कि अमित शाह इस माह के अंत में 30 नवंबर को फिर बंगाल दौरे पर आ सकते हैं. दूसरी ओर, नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल के प्रमुख चेहरे स्मृति इरानी, पीयूष गोयल सहित अन्य मंत्रियों के बंगाल दौरे पर आने की संभावना है. भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा (Rahul Sinha) ने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान जिस तरह से केंद्रीय नेता और मंत्री बंगाल दौरे पर आए थे, विधानसभा चुनाव के दौरान भी आएंगे और केंद्रीय नेताओं को अलग-अलग जोन की जिम्मेदारी भी दी जाएगी और यह हर चुनाव में होता है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button