अंगद के पैर की तरह भ्रष्टाचार में पैर जमा चुकी है छत्तीसगढ़ में भाजपा सरकार :संजीव

जनता कांग्रेस प्रवक्ता ने ली अमित शाह के बयान पर चुटकी

रायपुर:जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रवक्ता व मीडिया समन्वयक संजीव अग्रवाल ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बयान पर चुटकी लेते हुए कहा है कि वाकई भाजपा छत्तीसगढ़ में अंगद की तरह पैर जमा चुकी है लेकिन भ्रष्टाचार में.

संजीव अग्रवाल ने कहा कि चुनाव के पहले अमित शाह को अचानक छत्तीसगढ़ के प्रति प्रेम उमड़ पड़ा है और वे बार बार छत्तीसगढ़ आ रहे हैं। लगता है कि अमित शाह कोई हिसाब किताब देखने आते हैं।

चुनाव के समय समर्थन लेने के लिए समाज के प्रबुद्ध लोगों से भेंट करना, वोट बैंक के लिए लोगों को मुफ्त में मोबाइल फोन बांटना, टिफिन बॉक्स बांटना, कूकर बांटना, चावल और नमक बांटने से यह साबित हो जाता है कि भाजपा छत्तीसगढ़ में अपनी जमीन खो चुकी है और उसे चुनाव हारने का डर सता रहा है।

भारतीय जनता पार्टी के छत्तीसगढ़ में पिछले 15 सालों में भ्रष्टाचार प्रदेश के सभी विभागों में पूरी तरह से पांव पसार चुका है। यहाँ तक कि छत्तीसगढ़ में भाजपा सरकार के कुछ मंत्री भी जमीन घोटाले में शामिल हैं, मुख्यमंत्री के सांसद पुत्र अभिषेक सिंह का नाम भी पनामा पेपर लीक्स घोटाले में शामिल है, इसके अलावा पीडीएस घोटाला, अंखफोड़वा कांड, नसबंदी कांड जैसे कई प्रकरण इस सरकार में हूए। डॉ रमन सिंह चाउर वाले बाबा से दारू वाले बाबा बन गए हैं।

संजीव अग्रवाल ने बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार के हर विभाग में भ्रष्टाचार अपनी चरम सीमा पर व्याप्त है। छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार में ईमानदार अधिकारी परेशान हैं, जनता हलाकान है और बेईमान को आराम है। शराबबंदी करते करते सरकार खुद ही शराब बेचने लगी।

रोजगार, शिक्षा, चिकित्सा, स्वास्थ्य, पर्यावरण संरक्षण, महिला सुरक्षा, महंगाई दर, किसानों की समस्याओं जैसे हर मोर्चे पर विफल होने के बाद भी अमित शाह सत्ता के मद में चूर हो कर कहते हैं कि अंगद के पैर की तरह जमे हुए हैं और इस बार भी छत्तीसगढ़ में भाजपा की चौथी बार सरकार बनेगी तो क्या पैसे और शराब के बल पर चुनाव जीता जाएगा या फिर ईवीएम में कुछ सेटिंग्स की गई हैं, यह अमित शाह को स्पष्ट करना होगा क्योंकि शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति हो जो इतने भ्रष्टाचार के बाद भी भाजपा को वोट देने का इरादा रखता हो।

डोंगरगढ़ में बमलेश्वरी भवानी का दर्शन करने के बाद भी भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एक बार भी माता रानी से प्रदेश में हो रही डेंगू से मौतों के रोकथाम लिए प्रार्थना तक नहीं की ना ही मीडिया वालों को इस बारे में अपनी कोई प्रतिक्रिया दी। इससे साबित होता है कि वे यहां से चुनावी रोटियां सेंकने आए हैं और कुछ नहीं।

संजीव अग्रवाल ने कहा कि भाजपा के लिए चला चली की बेला है और अमित शाह के लिए मैं कहना चाहता हूं कि अमित बाबू मन बहलाने के लिए ख्याल अच्छा है यहां तक कि आरएसएस के सर्वे में भी भाजपा हार रही है और कई अन्य सर्वे के मुताबिक छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के रूप में जनता का सबसे चहेता नेता अजीत जोगी हैं और इस बार छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी के नेतृत्व में जनता काँग्रेस की सरकार बनेगी।

Tags
Back to top button