भाजपा का विधानसभा स्तरीय विशाल धरना प्रदर्शन 13 जनवरी को, कांग्रेस सरकार की वादाखिलाफी व धान खरीदी में अव्यवस्था

अरविन्द शर्मा:

कटघोरा:-देश की सबसे बड़ी राष्ट्रीय पार्टी भारतीय जनता पार्टी ने छत्तीसगढ़ प्रदेश सरकार की किसानों से किये वादाखिलाफी को लेकर विधानसभा स्तरीय धरना प्रदर्शन 13 जनवरी को विशाल रूप से करने की रूपरेखा तय की जा रही है।इसी तारतम्य में आज भाजपा मंडल की विधानसभा स्तरीय धरने की चर्चा बैठक नगर पंचायत उपाध्यक्ष छुरी के हिरानंद पंजवानी के निवास स्थान पर आहूत की गई।बैठक में धरना प्रर्दशन को लेकर पार्टी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं में गहन चर्चा हुई।बैठक में पूर्व कटघोरा विधायक व संसदीय सचिव माननीय लखन लाल देवांगन जी,कार्यक्रम जिला मंत्री माननीय संजय शर्मा जी,कटघोरा मण्डल अध्यक्ष माननीय धन्नू प्रसाद दुबे जी,कटघोरा मंडल द्वय महामंत्री माननीय अभिषेक गर्ग जी व माननीय राजेन्द्र टंडन जी,श्री मोड़े महाराज जी,श्री करुणा शंकर देवांगन जी,अशोक तिवारी जी,श्री अरविंद शर्मा जी,श्री महेंद्र सिंह राजपूत जी,श्री कृष्णा अग्रवाल जी,रघुनंदन यादव,टेकराम,सहोदर,सुशील,उमा,भविस्या, सुनील खांडे सहित बड़ी संख्या में पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती पूजा अर्चना से की गई।ततपश्चात कार्यक्रम को अग्रसर रखते हुए वरिष्ठजनों का सम्मान पुष्पगुच्छ से किया गया। विधानसभा स्तरीय धरना प्रदर्शन को लेकर कटघोरा मण्डल अध्यक्ष महोदय धन्नू प्रसाद दुबे जी ने बताया कि राज्य की सरकार ने किसानों के साथ वादाखिलाफी की है, चुनाव के दौरान किसानों के लिए जो वादे किए थे, “शायद सरकार उन वादों को भूल चुकी है जो किसान आज अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहे हैं।कार्यक्रम जिला मंत्री संजय शर्मा ने सरकार की नीतियों को गिनाया इन्होंने बताया कि 15 सालो में किसानों का स्तर किस स्थान में था और आज कांग्रेस सरकार में किसानों की क्या दशा है।पूरी तरह वाच करने के बाद भाजपा ने किसानों की दुर्दशा देखी और जिला स्तर व विधानसभा स्तर पर किसानों की समस्याओं को लेकर विशाल धरना कार्यक्रम करने की तैयारी शुरू कर दी है।पूर्व कटघोरा विधायक व संसदीय सचिव माननीय लखनलाल देवांगन जी ने बताया कि राज्य की कांग्रेस सरकार किसानों को शोषित करने का काम कर रही है।इसलिए किसानों के हित मे भाजपा का एक दिवसीय धरना कार्यक्रम 13 जनवरी को कटघोरा में विशाल रूप से किया जाना है।जिस तरह चुनाव के दौरान कांग्रेस सरकार ने कई बिंदुओं का घोषणा पत्र तैयार कर जनता को झांसे में लेकर पूर्णबहुमत से सरकार बनाई है वही सरकार के दो साल पूरे होते ही आमजन अपने आप को ठगा सा महशुस करने लगा है।कांग्रेस सरकार बनने के बाद न तो किसानों का धान तय सीमा में खरीदा गया, न ही किसानों को बोनस मिला और न ही किसानों का धान एक मुश्त पच्चीस सो रुपये में खरीदा गया।राज्य में माननीय डॉ रमन सिंह की सरकार के दौरान 1 नवंबर से धान खरीदी शुरू हो जाती थी,जबकि कांग्रेस सरकार में यह खरीदी 1 दिसम्बर एक माह देरी से शुरू की गई।

आज छुरी शक्ति केंद्र में भाजपा मंडल के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की बैठक संम्पन्न हुई।बैठक में विधानसभा स्तरिय धरना प्रदर्शन की रूपरेखा तय की गई है।अब विपक्षी पार्टी भाजपा ने भी सरकार की नीतियों को लेकर विगुल फूक दिया है और यह विपक्ष का चुनाव उपरांत पहला धरना प्रदर्शन होगा जो कि किसानों की समस्याओं को लेकर किया जाएगा है।धरना प्रदर्शन में किसानों की बड़ी भीड़ इकट्ठा होगी और सभी सरकार के नीतियों को लेकर हुँकार भरेंगे।कांग्रेस सरकार के दो वर्ष पूर्ण हो चुके हैं लेकिन सरकार की नीति किसान हितैषी नही रही है जो भाजपा ने किसानों के साथ मिलकर विधानसभा स्तरीय विशाल धरना प्रदर्शन करने की रणनीति तय की है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button