छत्तीसगढ़

भाजपा के बागी व निर्दलीय पार्षद पद के प्रत्याशी का पर्दाफाश

भरत मंगवानी

बिलासपुर:  भाजपा के बागी व निर्दलीय पार्षद पद के प्रत्याशी का पर्दाफाश उन्ही कार्यकर्ताओं ने किया है जिनके के नाम का इस्तीफा बुधवार को लक्ष्मी यादव ने सोशल मीडिया पर वायरल कर किया था आपको बता दें कि पार्टी संगठन द्वारा जब इस्तीफा देने वाले कार्यकर्ताओं से संपर्क किया गया तो उन्होंने जानकारी नहीं होने की बात कही और इस बात से साफ इनकार किया कि उन्होंने पार्टी से इस्तीफा दिया है।

इस दौरान कुछ कार्यकर्ताओं ने यह भी कहा कि वह कुछ दिनों से गांव से बाहर है और उन्हें इस बात की जानकार नहीं है नगरीय निकाय चुनाव में भाजपा के द्वारा प्रत्याशी की घोषणा के बाद देवरीखुर्द के निर्दलीय प्रत्याशी लक्ष्मी यादव का नाटकीय घटना क्रम जारी है जिसमें देवरीखुर्द के एक भाजपा नेता की भूमिका भी संदिग्ध मानी जा रही है।

जिसे लेकर देवरीखुर्द भाजपा मुस्तैदी से काम में जुटी हुई है इधर बुधवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुई 26 कार्यकर्ताओं के नाम की इस्तीफे वाली सूची को लेकर निर्दलीय प्रत्याशी लक्ष्मी यादव स्वयं घिर गए हैं क्योंकि जिन कार्यकर्ताओं का नाम सूची में है उनमें से अधिकतर कार्यकर्ता वार्ड 43 के हैं जो वार्ड 42 के नाम है वह या तो गांव से बाहर है या उन्हें जानकारी नहीं है कुछ युवाओं को लेकर इस्तीफा भाजपा को कमजोर साबित करने की साजिश नाकाम होती नजर आ रही है इस्तीफे में क्षेत्र के कुछ भाजपा कार्यकर्ता है जिनके शुरू से ही बगावती तेवर है।

देवरीखुर्द में भाजपा पार्षद पद के प्रत्याशी बीपी सिंह को कमजोर करने वाली साजिश में निर्दलीय प्रत्याशी ने भाजपा के एक संदिग्ध भीतरघाती के साथ मिलकर दो लोगों को इस्तीफा तो दिला दिया लेकिन अब स्वयं उसी वार्ड से भाजपा के समर्थन में वह नेता उतर आया है। बीपी सिंह की बढ़ती लोकप्रियता को देखकर विरोधियों द्वारा संयंत्र किया जा रहा है । इसे बी पी सिंह को चाहने वाले और वार्ड नंबर 42 के जनता में काफी आक्रोश है।

Tags
Back to top button