2019 की तैयारी में जुटे भाजपा के थिंक टैंक

जालंधर(रविंदर): केंद्र में भाजपा की सरकार को 4 साल पूरे हो गए हैं। इसे लेकर जहां देशभर में भाजपा के वर्कर खुशियां मनाने में जुटे हैं, तो वहीं पार्टी के थिंक टैंक 2019 की तैयारियों में जुट गए हैं।2014 के बाद जिस तरह से भाजपा ने अनेक राज्यों में अपनी सरकार बनाने में सफलता हासिल की है, उसी नक्शे कदम पर चलते हुए भाजपा इस बार उन राज्यों पर ज्यादा फोकस कर रही है, जहां पिछली बार सफलता नहीं मिल पाई थी। खासतौर पर जिन 200 के करीब सीटों पर भाजपा को हार मिली थी, अब 2019 में उन पर पार्टी का ज्यादा फोकस रहेगा।

2019 में दोबारा परचम लहराने के लिए मोदी सरकार सोशल मीडिया, प्रिंट मीडिया व इलैक्ट्रॉनिक्स मीडिया पर खास ध्यान देने जा रही है। मीडिया के जरिए पार्टी का प्लान है, ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचना। पार्टी का खास प्लान आर्थिक उपलब्धियों को मीडिया के जरिए जनता तक पहुंचाना होगा। इसके लिए भाजपा व्हाट्स एप, फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम के जरिए ज्यादा से ज्यादा यूथ तक पहुंचने और दिल्ली व मुम्बई से बाहर के मीडिया के जरिए सभी क्षेत्रों में पहुंचना है। अभी मंगलवार को जब भाजपा कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी तो केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने आर्थिक स्तर पर सरकार के कामकाज का एक लेखा-जोखा जारी किया था।

खास तौर पर देश के किसानों के लिए पिछले 4 साल में किए गए काम का उल्लेख था। आने वाले दिनों में मोदी सरकार के अन्य मंत्रालय भी जिसमें खास तौर पर रेल, सड़क यातायात मेंं की उपलब्धियां, गुड्स एंड सर्विस टैक्स, हाईवे निर्माण, पावर प्रोजैक्ट, गांव-गांव बिजली पहुंचाने का काम, स्वच् छ भारत, मेक इन इंडिया, हर सिर को छत, फाइनैंसियल सैक्टर रिफार्म, स्टाक मार्कीट बूम, बलैक मनी पर शिकंजा, रोजगार के साधन उपलबध करवाना, घरेलू उत्पादन में वृद्धि जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों को जनता के बीच लेकर जाएंगे।

रूरल एरिया तक सरकार की बात को पहुंचाने के लिए आल इंडिया रेडियो व दूरदर्शन पर इस संबंध में प्रोग्राम तैयार किए जा रहे हैं तो शहरी हलकों में इन बातों को घर-घर तक पहुंचाने के लिए प्रिंट व सोशल मीडिया की मदद ली जाएगी। इंफॉर्मेशन बयूरो समेत देश के तमाम बड़े मीडिया घरानों को आफिशियल लैटर जारी कर सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करने को कहा जा रहा है। आने वाले दिनों में पब्लिसिटी को लेकर मोदी सरकार बड़े धमाके कर सकते हैं। जिसमें पिछली सरकारों से तुलना, बड़े-बड़े इंटरव्यू प्लान, विरोधी पार्टियों की खामियों का बखान तक शामिल होगा। सरकार के सभी विभागों के मंत्री पिछले 4 साल की अपनी खासियत को मीडिया के जरिए जनता तक पहुंचाएंगे। सरकार व पार्टी के प्रवक्ता कहते हैं कि आने वाले एक समय में सरकार का फोकस रूरल व क्षेत्रिय मीडिया पर रहेगा, ताकि सरकार की ज्यादा से ज्यादा बात ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाई जा सके।

<>

Back to top button