BJP कार्यसमिति ने बताया कांग्रेस को विकास विरोधी

प्रदेश कार्यसमिति में प्रस्ताव किया गया पारित

रायपुर: भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में राजनैतिक प्रस्ताव पारित हुआ। सरकार की नीतियों से प्रदेश के सभी वर्गों में उत्साह की बात कही गई। प्रस्ताव में बोनस तिहार से प्रदेश के किसानों की आय बढऩे, तेंदूपत्ता संग्राहकों के लिए बोनस वितरण से सरकार की सराहना की गई। प्रस्ताव में कांग्रेस को विकास विरोधी पार्टी करार दिया गया है वहीं केरल और अन्य राज्यों में विपक्षी हिंसा की निंदा की गई। प्रदेश में डॉ. रमन सिंह के कार्यों से भाजपा के प्रति लोगों में विश्वास बढ़ा है ऐसा राजनीतिक प्रस्ताव पारित हुआ।
प्रदेश भाजपा के नेता और सरकार में मंत्री अजय चन्द्राकर ने रविवार को राजनीतिक प्रस्ताव रखा जिसका भाजपा नेता शिवरतन शर्मा ने समर्थन किया। प्रस्ताव के प्रमुख विषय जिन पर चर्चा हुई :

विकास विरोधी कांग्रेस :
भाजपा प्रदेश कार्यसमिति ने विपक्षी पार्टी कांग्रेस को विकास विरोधी कहा है। प्रस्ताव में कहा गया कि, हाल में राज्यसभा में ओबीसी को संवैधानिक दर्जा देने के खिलाफ राज्यसभा में मत देकर कांग्रेस ने उस बिल को गिरा दिया। स्वाभाविक ही देश भर के पिछड़े समूहों में कांग्रेस के इस कृत्य के खिलाफ तीव्र आक्रोश है। छत्तीसगढ़ भी कांग्रेस के इस कृत्य से दुखी है। प्रदेश की यह कार्यसमिति कांग्रेस के इस दोहरे रवैये की निंदा करती है।
प्रस्ताव में कहा गया कि, पार्टी का अश्वासन है कि विपक्ष के अनेक ऐसे अवरोधों के बावजूद भाजपा सभी वंचित वर्गों को उनका अधिकार दिलाने में इसी तरह जी-जान से जुटी रहेगी।
कहा गया कि, हाल में कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता की ओर से प्रदेश के लाखों किसानों को शराबी कह कर अपमानित किया गया। प्रदेश के अन्नदाताओं की अस्मिता से इस तरह खिलवाड़ करना बिल्कुल अस्वीकार्य है। कार्यसमिति ने इसकी निंदा कर विपक्ष से आग्रह किया कि वह सकारात्मक राजनीति कर प्रदेश के विकास में सहभागी बने।

बोनस तिहार :
बोनस तिहार को कार्यसमिति ने सरकार की उपलब्धि बताया। कहा गया कि प्रदेश के 13 लाख किसानों तक 21 सौ करोड़ के बोनस की राशि उनके खाते में सीधे मिल जाने से अन्नदाताओं में प्रसन्नता का वातावरण है। इससे प्रदेश में भाजपा सरकार और भी मजबूत हुई है। बोनस भी देश भर के किसानों की आय तय समय में दुगनी करने के प्रधानमंत्री मोदी के सपने को साकार करने की दिशा में उठाया गया एक कदम बताया गया।

समृद्ध छत्तीसगढ़ :
प्रदेश शासन ने तेंदू पत्ता संग्राहकों को भी आगामी सीजन से प्रति मानक बोरे 700 रुपए बढ़ा कर 1800 से 2500 करने का निर्णय लिया है। गन्ना किसानों को प्रति क्विंटल 50 रुपए का बोनस, इसी तरह सौर सुजला योजना, उजाला योजना, सहित अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं की सराहना की गई। केन्द्र सरकार की योजनाओं के प्रदेश में सफल क्रियान्वयन की सराहना की गई।

विपक्षी हिंसा :
कार्यसमिति में प्रस्ताव पारित हुआ कि, केरल, पश्चिम बंगाल और त्रिपुरा की सरकारें लोकतंत्र में विश्वास नहीं करती। इन प्रदेशों में लगातार स्वयंसेवकों और भाजपाजनों के खिलाफ विरोधी दलों की हिंसा जारी है। केवल केरल में ही पिछले साल भर के दौरान चौदह भाजपा कार्यकर्ताओं की दुखद हत्या हुई है। भाजपा का यह स्पष्ट मत है कि लोकतंत्र में हिंसा का कोई स्थान नहीं होना चाहिए। प्रदेश की यह कार्यसमिति इस हिंसा की कड़ी भत्र्सना करती है।

सशक्त भाजपा – समर्थ भाजपा :
भाजपा ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्मशताब्दी वर्ष को ‘गरीब कल्याण वर्ष’ के रूप में मनाया है। पार्टी की रीति-नीति को अमल में लाने के कारण छत्तीसगढ़ के शोषित और वंचित रहे तबकों का आर्थिक उत्थान और उनका सशक्तिकरण हुआ है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष में राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के राष्ट्रव्यापी प्रवास के क्रम में छत्तीसगढ़ का तीन दिवसीय प्रवास भी भाजपाईयों के वैचारिक और व्यावहारिक आधार को और ज्यादा मज़बूत करने में प्रेरक साबित हुआ है।

जनसंघ बीज से वृक्ष :
कल भारतीय जनसंघ की स्थापना के 66 वर्ष पूरे हुए हैं। यह अवसर प्रखर राष्ट्रवादियों के लिए प्रसन्न होने के अनेक कारण उपलब्ध करा रहा है। वास्तव में भारतीय संस्कृति और मर्यादा के आधार पर राष्ट्र के निर्माण का जो सपना हमारे मनीषियों ने देखा था, आज वह सपना साकार होता दिख रहा है। राष्ट्रवादी विचारधारा का बीज आज वटवृक्ष का रूप लेते हुए सम्पूर्ण विश्व को आलोकित कर रहा है।

भविष्य की क्या होगी रूपरेखा :
2022 में भारत की आजादी के 75 वर्ष पूरे होने तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न्यू इण्डिया का संकल्प व्यक्त किया। प्रधानमंत्री के उस संकल्प के तहत प्रदेश भाजपा की यह कार्यसमिति भी एक सशक्त और समृद्ध छत्तीसगढ़ के संकल्प को सिद्ध करने और ज्यादा दृढ़ता के साथ जुट जाने स्वयं को समर्पित करती है। देश/प्रदेश के नव निर्माण के संकल्प की सिद्धि निस्संदेह भाजपाईयों की ओर से होना ही नियति ने तय किया है। भाजपा की यह कार्यसमिति प्रदेश के भाजपाजनों का आह्वान करती है कि वे अपने नेतृत्व के साथ कदम से कदम मिलाकर आगे बढ़ें।

Back to top button