छत्तीसगढ़

भाजपा कार्यसमिति के प्रस्ताव अपरिपक्व पूर्वाग्रही : कांग्रेस

रायपुर: भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यसमिति में पारित प्रस्तावों को कांग्रेस ने अपरिपक्व और पूर्वाग्रही कहा है। प्रदेश कांग्रेस के मीडिया सचिव सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि, कांग्रेस को विकास विरोधी बता कर प्रस्ताव पारित कर देने से भारतीय जनता पार्टी का विकास के नाम पर किया जा रहा काम छुप नहीं सकता और न ही भाजपा के बेलगाम विकास का पागलपन खत्म हो सकता है।
उन्होंने कहा कि, कोरबा के चोटिया में निर्माणाधीन पुल ढ़ह जाता है एक मजदूर की मौत हो जाती है सात मजदूर गम्भीर रूप से घायल हैं। गरियाबंद में बिना लोकार्पण किये 10 करोड़ की लागत से बना पुल ढ़ह जाता है। मुख्यमंन्त्री के निर्वाचन क्षेत्र का पुल भी उनके लोकार्पण करने के एक सप्ताह के अंदर जर्जर हो जाता है। राजधानी का दम तोड़ता एप्रिल पार्क और राजनांदगांव का कागजो तक सिमटा फूड पार्क भाजपा के विकास के उदाहरण हैं।
उन्होंने कहा कि, प्रदेश की 30 फीसदी खेती की जमीन उद्योगों के लिए अधिग्रहित कर ली गई, न उद्योग लगे न किसानों की जमीन वापस की गई। छत्तीसगढ़ में विकास सिर्फ भाजपा के चंद नेताओं का हुआ है। केरल पक्षिम बंगाल त्रिपुरा की सरकारों को लोकतंत्र विरोधी बताने वाली भाजपा अपने केंद्र सरकार के आचरण को देखे जिसने मणिपुर, गोवा के जनमत का अपमान कर खरीद फरोख्त कर सरकार बनाया है। भाजपा के राष्ट्रीय नेतृत्व के द्वारा लगातार दलबदल करवा कर विरोधी दल में की जा रही तोड़ फोड़ कौन से लोकतंत्र का चरित्र है। एक साल का धान का बोनस दे कर वाहवाही लेने वाली भाजपा बकाया बोनस और 2100 रुपए समर्थन मूल्य पर क्यों मौन है।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *