लाठीचार्ज के विरोध में कांग्रेस पीएम मोदी को दिखायेंगे काला झंडा

जांजगीर दौरे के दौरान कार्यक्रम का विरोध किया जाएगा

बिलासपुर :

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी की नव नियुक्त कार्यकारिणी की बैठक कांग्रेस भवन में हुई। बैठक में जिले के कांग्रेस भवन में हुए लाठीचार्ज के मुद्दे को लेकर चर्चा की गई ।

लगभग चार घंटे चली इस बैठक में कांग्रेस प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया, चंदन यादव, प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष भूपेश बघेल समेत कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेता मौजूद रहे।

बैठक में सबसे पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर हुए लाठीचार्ज को लेकर निंदा प्रस्ताव पारित किया गया।

पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने कहा कि अगर कांग्रेस नेताओं पर हुए लाठीचार्ज की न्यायिक जांच नहीं होगी तो हम भाजपा के हर कार्यक्रम का विरोध करेंगे।

उन्होंने कहा कि 22 सितंबर को पीएम मोदी के जांजगीर दौरे के दौरान कार्यक्रम का विरोध किया जाएगा। बघेल ने कहा कि भाजपा मंत्री के बयान के बाद ही हमारे कार्यकर्ता प्रदर्शन करने गए थे।

कांग्रेस भवन हमारे लिए मंदिर के समान है। झीरम घाटी हमले के बाद भाजपा के हौसले बढ़े हैं, इसीलिए इनको शहर के बीचोंबीच हत्या का प्रयास करने में भी कोई झिझक नहीं हुई।

पुनिया ने कहा कि दोषी पुलिस अधिकारियों पर एफआईआर दर्ज कर उन्हें सलाखों के पीछे भेजना चाहिए। ये मजिस्ट्रियल जांच केवल लीपापोती है। उन्होंने कहा कि चुनाव को लेकर रणनीति तैयार कर ली गई है।

निंदा प्रस्ताव सर्वसम्मति से पास किया गया है। लाठीचार्ज मामले को लेकर निंदा प्रस्ताव डॉ. चरणदास महंत ने रखा तो शिव डहरिया ने उसका समर्थन किया।

Back to top button